यमुना एक्सप्रेस वे पर हो रहे हादसों पर डीएम ने जताई चिंता

यमुना एक्सप्रेस वे पर हो रहे हादसों पर डीएम ने जताई चिंता

Amit Sharma | Publish: Jun, 18 2019 02:37:42 PM (IST) Mathura, Mathura, Uttar Pradesh, India

-सड़क सुरक्षा के स्टेकहोल्डर्स की कार्यशाला का आयोजन
-सड़क सुरक्षा सप्ताह का बढ़ गया है महत्व
-सप्ताह के पहले दिन ही कई लोगों की सड़क हादसों में मौत

मथुरा। सोमवार से सड़क सुरक्षा सप्ताह शुरू हो गया। यह सप्ताह 17 से 22 जून तक मनाया जाएगा। शुभारंभ पुलिस लाइन सभागार में सड़क सुरक्षा के स्टेकहोल्डर्स की कार्यशाला के साथ किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ जिलाधिकारी महोदय सर्वज्ञ राम मिश्र के द्वारा रिबन काट कर किया गया।
जिलाधिकारी का स्वागत नवागत पुलिस कप्तान शलभ माथुर एवं डॉ ब्रजेश सिंह एसपी यातायात द्वारा किया गया।

यह भी पढ़ें- ट्रैफिक नियम तोड़ना नाबालिग दोस्तों को पड़ा महंगा, जानिए क्या हुआ हाल!

एसएसपी शलभ माथुर का स्वागत राजेश सिंह एआरटीओ प्रथम एवं मनोज मिश्रा एआरटीओ द्वितीय प्रवर्तन ने किया। एसपी सिटी का स्वागत बबीता वर्मा एआरटीओ प्रशासन द्वारा किया गया। कार्यशाला को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी सर्वज्ञ राम मिश्र ने कहा कि लोगों को सड़क सुरक्षा के प्रति जागरूक करना होगा। उन्होंने कहा कि एक्सप्रेस-वे पर बहुत दुर्घटनाएं हो रही हैं जिसका कारण गति सीमा से अधिक वाहन चलाना और टायरों की स्थिति को नजरअंदाज करना है। उन्होंने कहा कि मीडिया की भी बहुत महत्वपूर्ण भूमिका है उनको भी अपनी भूमिका का निर्वहन करना होगा जिससे लोगों में जागरूकता फैलाई जा सके।

यह भी पढ़ें- एक ही समुदाय के दो पक्ष भिड़े, तनाव, फोर्स तैनात

एसएसपी शलभ माथुर ने कहा कि आम जनता को इस अभियान से जोड़ने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि जो भी कार्यक्रम सड़क सुरक्षा के अंतर्गत आयोजित किए जाते हैं उनको सोशल मीडिया पर भी अपलोड करना चाहिए जिससे कि अधिक से अधिक लोगों तक वह कार्यक्रम और योजना पहुंचे और उसके विषय में वह अपने सुझाव दें।

यह भी पढ़ें- डाकघर में दिनदहाड़े लूट, देखें वीडियो

यातायात एसपी डा.बृजेश सिंह ने सड़क सुरक्षा सप्ताह के अंतर्गत 17 जून से 22 जून तक जो अलग-अलग कार्यक्रम आयोजित किए जाने हैं उनकी जानकारी दी और बताया कि किस तरीके से इन अलग-अलग कार्यक्रमों के माध्यम से सड़क सुरक्षा के प्रति लोगों में जन जागरूकता फैलाई जाएगी। एसपी सिटी ने कहा की यातायात और सड़क सुरक्षा कोई मामूली विषय नहीं है कई समस्याएं हैं जिनके स्रोत यातायात और सड़क सुरक्षा ही हैं। लोगों के हृदय में सिविक सेंस उत्पन्न करना होगा उनके हृदय में इस बात को बिठाना होगा कि वह सड़क सुरक्षा से संबंधित नियमों का पालन करें तो बहुत सी समस्याओं का समाधान स्वता ही हो जाएगा क्योंकि जब प्रत्येक व्यक्ति स्वयं को बदल लेगा तभी वह दूसरों को प्रेरित कर पाएगा।

यह भी पढ़ें- असुरक्षित सड़कः मथुरा की सीमा में यमुना एक्सप्रेस वे पर ‘8 दिन में 19 की मौत’

कार्यशाला में एआरटीओ प्रशासन बबीता वर्मा एआरटीओ प्रवर्तन द्वितीय मनोज मिश्रा जहीर खान ऑटो यूनियन अध्यक्ष जाहिद टैक्सी यूनियन अध्यक्ष बेसिक शिक्षा विभाग से खंड शिक्षा अधिकारी जमुना प्रसाद स्वास्थ्य विभाग से डॉ प्रवीण कुमार डिप्टी सीएमओ नगर निगम से डीके सिंह सहायक नगर आयुक्त ब्रज यातायात एवं पर्यावरण जन जागरूकता समिति से विनोद दीक्षित आदि ने भी अपने विचार व्यक्त किए और मूल्यवान सुझाव दिए ।

यह भी पढ़ें- नये ’कप्तान’ ने अपनी तरह से सजाई ’फील्डिंग’

कार्यशाला के समापन पर धन्यवाद ज्ञापन और आभार राजेश सिंह एआरटीओ प्रवर्तन प्रथम द्वारा व्यक्त किया गया कार्यक्रम का सफल संचालन सामाजिक कार्यकर्ता एवं यातायात जन-जागरूकता के क्षेत्र में कार्यरत मनीष दयाल द्वारा किया गया। कार्यशाला में परिवहन विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी , यातायात पुलिस के कर्मचारी एवं अधिकारी, ऑटो यूनियन, टैक्सी यूनियन ,ट्रांसपोर्टस, स्वास्थ्य विभाग ,बेसिक शिक्षा विभाग, विद्यालयों के प्रतिनिधि आदि ने प्रतिभाग किया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned