इस प्रतियोगिता का विजेता छात्र बनेगा एक दिन का कोतवाल

Jyoti Mini

Publish: Oct, 12 2017 04:49:43 (IST)

Mirzapur, Uttar Pradesh, India
इस प्रतियोगिता का विजेता छात्र बनेगा एक दिन का कोतवाल

पुलिस विभाग की अनोखी पहल-निबंध प्रतियोगिता का आयोजन, विजेता छात्र बनेगा एक दिन का कोतवाल...

 

मिर्ज़ापुर. जनपद पुलिस की अच्छी पहल से एक दिन के लिए कोई एक छात्र पुलिस इंस्पेक्टर बनेगा। शर्त यह है कि, उसे निबंध प्रतियोगित में विजेता बनना पड़ेगा। जिले की पुलिस ने कोतवाल बनने के लिए छात्रों के बीच अनोखी निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया है। जो भी विजेता छात्र होगा, वह एक दिन के लिए शहर कोतवाल बनेगा। मिर्ज़ापुर पुलिस लाइन में आयोजित इस निबंध प्रतियोगिता में छात्र-छात्राये निबंध लिखने की परीक्षा दे रहे हैं। सबसे बेहतर निबंध लिखने वाले विजेता छात्र को एक दिन का थानाध्यक्ष बनाया जाएगा।

पुलिस की पहल पर आयोजित इस अनोखे निबंध परीक्षा का आयोजन पुलिस लाइन में किया गया। जिसमें शहर के नामीगिरामी स्कूलों के छात्र और छात्राओं ने भाग लिया। इस निबंध प्रतियोगिता में तीन विषय पर निबंध लिखना था। जिसमे पहला विषय है। अगर मैं एक दिन का पुलिस अधीक्षक होता तो शहर में क्या करता। वहीं प्रतियोगिता का दूसरा विषय था पुलिस के बिना समाज का क्या होता। तीसरा विषय था नक्सलवाद से हम कैसे निपटें। छात्रों को इस पर निबंध लिखने के लिए एक घंटे का समय दिया गया। परीक्षा की निगरानी के लिए मौके पर खुद क्षेत्राधिकारी शहर संजय सिंह के साथ कई स्कूलों के अध्यापक भी लगे थे।

 

वहीं प्रतियोगिता में भाग लेने छात्रों के साथ पहुंचे जुबली इंटर कॉलेज के शिक्षक रमाशंकर शुक्ला ने इसे पुलिस महकमे और पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी की अच्छी पहल बताते हुए कहा कि, इससे बच्चों को पुलिस की कार्यप्रणाली को समझने में मदत मिलेगी। साथ ही पुलिस और पब्लिक के बीच भरोसा पैदा होगा।

अपने स्कूल के शिक्षक इस तरह के निबंध प्रतियोगित को अच्छा बता रहे है। तो पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी का कहना है। विजेता छात्र को कोतवाल बनाया जाएगा। इस निबंध प्रतियोगिता में शहर के कुल 16 स्कूलों के 146 बच्चो ने भाग लिया है। इसका परिणाम आने के बाद प्रतियोगिता में विजेता छात्र को पुरस्कार के रूप में कोतवाल बनाने की घोषणा से प्रतियोगिता में भाग ले रहे छात्र भी उत्साहित नजर आए। फिलहाल बच्चो के उत्साह को देखते हुए लगता है कि, इस पहल का सकारात्मक असर बच्चो पर पड़ा है। पुलिस महकमा बच्चों के अंदर बेहतर संदेश देने में कामयाब भी हुआ है।

input- सुरेश सिंह

 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned