इथोपिया विमान हादसा: एक दिन बाद एयरलाइंस का फ्लाइट रिकॉर्डर बरामद, जांच में जुटे अधिकारी

इथोपिया विमान हादसा: एक दिन बाद एयरलाइंस का फ्लाइट रिकॉर्डर बरामद, जांच में जुटे अधिकारी

Anil Kumar | Publish: Mar, 12 2019 03:38:46 AM (IST) | Updated: Mar, 12 2019 12:33:31 PM (IST) विश्‍व की अन्‍य खबरें

  • इथोपियन एयरलाइंस हादसे के एक दिन बाद दुर्घटनास्थल से फ्लाइट रिकॉर्डर बरामद।
  • बरामद किए गए उपकरणों में कॉकपिट वॉयस रिकॉर्डर व डिजिटल फ्लाइट डेटा रिकॉर्डर शामिल हैं।
  • इस विमान हादसे में चार भारतीय समेत 157 लोगों की मौत हो गई।
  • फ्लाइट अदीस अबाबा से केन्या की राजधानी नैरोबी जा रही थी।

अदीस अबाबा। केन्या की राजधानी नैरोबी के लिए उड़ान भरी इथोपियन एयरलाइंस के विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने के एक दिन बाद विमान से फ्लाइट रिकॉर्डर को जांचकर्ताओं ने बरामद कर लिया है। अब इससे इस बात का खुलासा हो सकता है कि प्लैन के क्रैश होने की मुख्य वजह क्या थी? बता दें कि रविवार की सुबह इथोपियन एयरलाइंस का एक विमान टेक ऑफ करने महज 6 मिनट बाद ही क्रैश हो गया था। इस हादसे में 157 लोगों की मौत हो गई थी। अब इस घटना के बाद से एहतियातन कई एयरलाइंस ने बोइंग 737 मैक्स 8 विमान की उड़ान को रोक दिया है।

तुर्की से न्यूयॉर्क जा रही विमान में मची अफरातफरी, एक एयरहोस्टेस का पैर टूटा, 30 घायल

दुर्घटनास्थल से कई उपकरण बरामद

बोइंग 737 मैक्स 8-उड़ान ईटी 302 अदीस अबाबा से केन्या की राजधानी नैरोबी जा रही थी। रविवार को उड़ान भरने के छह मिनट बाद यह विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इसकी वजह से इस बेड़े के विमान की दूसरी उड़ानों को रोकना पड़ा।मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, दुर्घटना स्थल से बरामद किए गए उपकरणों में कॉकपिट वॉयस रिकॉर्डर व डिजिटल फ्लाइट डेटा रिकॉर्डर शामिल हैं। बिते वर्ष नवंबर में सेवा में शामिल किए गए यह विमान इथोपिया की राजधानी से 60 किमी दक्षिणपूर्व बिशोफ्तु शहर के बाहरी इलाके के तुला फारा गांव के नजदीक एक खेत में दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इथोपियन एयरलाइंस ने कहा कि इस दुर्घटना का कारण अभी स्पष्ट नहीं है। हालांकि, पायलट ने कथित तौर पर दिक्कत की बात कही थी और वापस अदीस अबाबा लौटने के बारे में कहा था।

इथोपिया विमान हादसा: 2 मिनट की देरी से बची शख्स की जान, अगर नहीं छूटती फ्लाइट तो...

हादसे में चार भारतीय की भी मौत

बता दें कि इस दुखद हादसे में 157 लोगों की मौत हो गई थी, जिसमें चार भारतीय भी शामिल थे। रिपोर्टो के अनुसार उड़ान में 30 से ज्यादा देशों के लोग सवार थे, जिसमें केन्या, कनाडा व ब्रिटेन के नागरिक थे। इसमें सबसे ज्यादा केन्या के नागरिक शामिल हैं। मृतकों में 22 संयुक्त राष्ट्र के कर्मचारी हैं, जिसमें बहुत से नैरोबी में संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम के एक सभा में भाग लेने जा रहे थे।

विमान के क्रैश हो जाने से 157 यात्रियों की मौत, देखें तस्वीरें

सीएएसी ने बोइंग 737 मैक्स 8 विमान सेवा के परिचाल को रोका

आपको बता दें कि इस दुर्घटना के बाद कई एयरलाइंस ने इस मॉडल के उड़ानों पर रोक लगा दी है। चीन के नागरिक उड्डयन प्रशासन (सीएएसी) ने सोमवार की सुबह घरेलू एयरलाइंस को बोइंग 737 मैक्स 8 विमान की उड़ानों के परिचालन को शाम 6 बजे के पहले रोकने का आदेश दिया। सीएएसी ने कहा कि यह फैसला सुरक्षा चिंताओं की वजह से लिया गया है। ऐसा आपूर्ति किए गए दो अन्य बोइंग 737 मैक्स 8 विमानों के इसी तरह से उड़ान भरने के चरण में दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद किया गया है। इथोपियन एयरलाइंस ने एक बयान में कहा कि इस तरह के विमान की उड़ानों को रोकने का फैसला सावधानी के तौर पर लिया गया है। अफ्रीका के सबसे बड़े वाहक ने कहा कि हम दुर्घटना के कारणों के बारे में नहीं जानते, फिर भी हमने इस बेड़े के विमानों को अतिरिक्त सुरक्षा के तहत रोकने का निर्णय किया है। मालूम हो कि इससे पहले वर्ष 2010 में इथोपियन एयरलाइंस का विमान दुर्घटनाग्रस्त हुआ था जिसमें 90 लोगों की मौत हुई थी। यह विमान बेरुत से उड़ान भरा था लेकिन उड़ान भरने के महज कुछ ही मिनट बात दुर्घटना का शिकार हो गया था।

 

Read the Latest India news hindi on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले India news पत्रिका डॉट कॉम पर.

https://www.patrika.com/india-news/

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned