Patrika positive news भाकियू ने सिसौली में निजी खर्च से तैयार कराए ऑक्सीजन युक्त बेड

Patrika positive news ग्रामीण क्षेत्रों में करोना के कहर से लोगों का जीवन बचाने के लिए भाकियू ने मोर्चा संभाल लिया है। पहले चरण में भाकियू ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिसौली में निजी खर्च से ऑक्सीजन के छह बेड तैयार कराए हैं। अब भाकियू ब्लाक क्षेत्र पर इस अभियान को शुरू करेगी

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
मुज़फ्फरनगर.( Muzaffarnagar ) ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना वायरस ( Corona virus ) के प्रकोप को देखते हुए देश के सबसे बड़े किसान संगठन भारतीय किसान यूनियन ( BKU ) ने गांव देहात में माेर्चा संभाल लिया है। इसकी तैयारी भाकियू के गढ़ सिसौली से की गई है। यहां सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भाकियू ने अपने खर्च पर छह ऑक्सीजन बेड की स्थापना की है। अब यह अभियान सभी जगह चलाया जाएगा।

यह भी पढ़ें: 2500 रुपये सिक्योरिटी जमा कर घर ले जाएं ऑक्सीजन सिलेंडर, बस दिखाने होंगे ये डॉक्यूमेंट

भारतीय किसान यूनियन के मीडिया प्रभारी धर्मेंद्र मलिक ने प्रेस नोट जारी करते हुए कहा है कि इस समय कोरोना के कहर से ग्रामीण क्षेत्रों में हाहाकार मचा है। देर रात्रि में तबीयत खराब होने पर ग्रामीण क्षेत्रों में ऑक्सीजन और अस्पतालों में बेड में ना मिलने के कारण कई लोगों की जान जा चुकी है। इन हालातों को देखते हुए भाकियू ने एक छोटा सा प्रयास कस्बा सिसौली से शुरू किया है। ऑक्सीजन आपूर्ति की जिम्मेदारी भी भारतीय किसान यूनियन ने अपने खर्च पर किये जाने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन को ग्रामीण क्षेत्रों में भी प्राथमिक विद्यालयों में कम से कम 10 ऑक्सीजन ब्रेड की व्यवस्था करनी चाहिए । सामूहिक लड़ाई से ही कोरोना को हराया जा सकता है । गौरव टिकैत ने कहा कि कोरोना के कारण जो नुकसान हो रहा है उसकी भरपाई संभव नहीं है ।भारतीय किसान यूनियन ने एक बीड़ा उठाया है जिसकी शुरुआत जनपद में सिसौली से की है।

यह भी पढ़ें: Patrika Positive News: मामले घटने के साथ कम हुई ऑक्सीजन की डिमांड, प्लांट पर पहुंचने वालों की संख्या भी हुई आधी

भाकियू के मीडिया प्रभारी धर्मेन्द्र मलिक ने जिला प्रशासन से मांग करते हुए कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में अलग से ऑक्सीजन का कोटा निर्धारित कर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों को भी ऑक्सीजन उपलब्ध कराएं। अगर जिला प्रशासन चाहे तो भाकियू अपने निजी खर्च पर अपने वाहनों से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर ऑक्सीजन पहुंचाने का कार्य भी करने के लिए तैयार हैं । भाकियू जनपद के सामाजिक संगठनों, उद्यमियों, व्यापारियों से भी आह्वान करती है कि इस विपत्ति में हर संभव मदद करें, क्योंकि अगर जनपद के लोग खुशहाल होंगे तो व्यापार उद्योग सब खुशहाल होंगे। जनपद के सभी शुगर मिलो से भी निवेदन है कि अपने-अपने क्षेत्रों में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर 20-20 बेड ऑक्सीजन सहित उपलब्ध कराने के लिए आगे आये । भाकियू पत्र लिखकर भी शुगर मिलो से 100 बेड शुगर मिल के अंदर तैयार करने की अपील करेगी।

यह भी पढ़ें: सपा सांसद आजम खान की हालत गंभीर, ICU में प्रति मिनट 10 लीटर ऑक्सीजन की पड़ रही जरूरत

यह भी पढ़ें: महामारी के दौर में शुरू हुई ऑक्सीजन लंगर सेवा, इस नंबर पर करें कॉल, संक्रमित मरीजों के लिए निशुल्क मिलेगा सिलेंडर

यह भी पढ़ें: खुद कोरोना संक्रमित होने के बाद केंद्रीय मंत्री ने महसूस किया दर्द, मरीजों के लिए लगवाया इतना बड़ा ऑक्सीजन टैंक

Corona virus
shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned