फैसले की घड़ी में भगवान के सहारे उम्मीदवार, किसी ने किया जीत का दावा तो कोई बोला बनाएंगे सरकार

फैसले की घड़ी में भगवान के सहारे उम्मीदवार, किसी ने किया जीत का दावा तो कोई बोला बनाएंगे सरकार

Dhiraj Kumar Sharma | Publish: May, 23 2019 09:29:50 AM (IST) | Updated: May, 23 2019 10:06:12 AM (IST) राजनीति

  • वोटों के गिनती के साथ बढ़ने लगीं प्रत्याशियो की धड़कनें
  • विजयीभव का आशीर्वाद लेने भगवान के दर पर पहुंचे उम्मीदवार
  • प्रत्याशियों को भरोसा जीत के साथ बनाएंगे सरकार

नई दिल्ली। देश की 17वीं लोकसभा के लिए मतों की गिनती शुरू हो गई है। काउंटिंग शुरू होने के साथ ही देश के 8040 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला भी होने जा रहा है। यही वजह है कि हर प्रत्याशी की धड़कनें रुझानों के साथ ही शुरू हो गई हैं। इस चुनाव कई दिग्गजों की साख भी दाव पर लगी है तो कुछ उम्मीदवार पहली बार अपना भाग्य आजमा रहे हैं। दिन शुरू होने के साथ ही इन प्रत्याशियों ने भगवान के आगे माथा टेक कर अपने जीत के लिए प्रार्थना की।

मतों की गिनती सुबह 8 बजे शुरू हुई लेकिन रातभर उम्मीदवार परिणाम को लेकर करवट बदलते रहे। कुछ के लिए ये नतीजे आगे दशा और दिशा तय करेंगे तो कुछ के लिए ये अंतिम चुनाव भी साबित हो सकता है। लिहाजा हर प्रत्याशी चाहता है कि जीत उसी की हो।

 

राजधानी दिल्ली से कांग्रेस नेता अजय माकन इस बार नई दिल्ली सीट से चुनावी मैदान में हैं। माकन ने दावा किया है कि जीत उन्हीं की होगी। अपनी जीत के साथ-साथ अजय माकन को ये भी भरोसा कांग्रेस भी शानदार जीत दर्ज करेगी। माकने के मुताबिक इस बार कांग्रेस बेहतरीन प्रदर्शन करेगी और पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी प्रधानमंत्री बनेंगे। उन्होंने ये कहा कि दिल्ली में मुख्य मुकाबला कांग्रेस और भाजपा के बीच है। आपको बता दें कि दिल्ली की 7 लोकसभा सीट के लिए 12 मई को मतदान हुआ था। एग्जिट पोल के मुताबिक यहां भाजपा को 6 सीट मिल सकती है जबकि 1 कांग्रेस के खाते में जा सकती है। जबकि तीसरी बड़ी पार्टी आम आदमी पार्टी को इस चुनाव में एक भी जीत हासिल नहीं होगी।

 

उत्तर प्रदेश की बात करें तो यहां से पहली बार लोकसभा चुनाव में ताल ठोंक रहे अभिनेता से नेता बने भोजपुरी सुपर स्टार रवि किशन भाजपा की टिकट पर लड़ रहे है। नतीजों से पहले रवि किशन ने भी भगवान के दर पर माथा टेका और अपनी जीत के लिए प्रार्थना की। आपको बता दें कि रवि किशन का मुकाबला सपा प्रत्याशी रामभुआल निषाद से है। 2014 में यहां से योगी आदित्यनाथ ने तीन लाख वोटों से जीत दर्ज की थी, हालांकि उपचुनाव में ये सीट सपा के खाते में चली गई थी।

 

कर्नाटक की दक्षिण बेंगलूरु सीट से भाजपा की टिकट पर चुनाव लड़ रहे युवा प्रत्याशियों में शुमार तेजस्वी सूर्या ने भी नतीजों से पहले अपनी जीत का दावा किया। सूर्या ने भी दिन की शुरुआत भगवान के आगे माथा टेक कर की और जीत के लिए आशीर्वाद मांगा। आपको बता दें कि तेजस्वी सूर्या जीतते हैं तो इस बार लोकसभा पहुंचने वाले सबसे युवा प्रत्याशियों में उनका नाम शामिल हो जाएगा। कर्नाटक की कलबुर्गी सीट से भाजपा के टिकट पर लड़ रह उमेश यादव ने अपनी जीत के दावे के साथ नरेंद्र मोदी के दोबारा पीएम बनने का दावा किया। साथ ही उन्होंने कहा कि एनडीए की सरकार बनते ही कर्नाटक में भी भाजपा अपनी सरकार बनाएगी।

 

केरल की तिरुवनंथपुरम सीट से भाजपा के टिकट पर ताल ठोंक रहे कुम्मानम राजशेखरन की माने तो इस बार उनकी जीत सुनिश्चित है और केरल की जनता एनडीए खास तौर पर भाजपा के साथ है। राजशेखरन भी अपनी जीत का आशीर्वाद लेने भगवान के दर पहुंचे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned