ओडिशा: दूसरे चरण के मतदान से पहले नक्सलियों ने की निर्वाचन अधिकारी की हत्या

  • लोकसभा चुनाव में बंपर वोटिंग से बौखलाए नक्सली
  • छत्तीसगढ़ के बाद ओडिशा में बड़ी वारदात को दिया अंजाम
  • चुनाव कराने जा रही निर्वाचन अधिकारी की हत्या

By: Chandra Prakash

Updated: 17 Apr 2019, 09:26 PM IST

नई दिल्ली। लोकतंत्र के सबसे बड़े पर्व से मतदान से नक्सली हमेशा से घबराते रहे हैं। ओडिशा के कंधमाल में दूसरे चरण का मतदान से पहले नक्सलियों ने एक महिला निर्वाचन अधिकारी की हत्या कर दी। बालांदापाड़ा के जंगलों से गुजरते वक्त नक्सलियों ने गोली मार कर उनकी हत्या कर दी और उनकी गाड़ी को आग के हवाले कर दिया।

हमले से पहले बारूदी सुरंग में विस्फोट

जानकारी के मुताबिक चुनाव पर्यवेक्षक संयुक्ता दिग्गल पोलिंग पार्टी जब अपने गंतव्य की ओर जा रही थीं। उनका काफिला गोछापाड़ तहसील के बालांदापाड़ा जैसे ही पहुंचा बारूदी सुरंग में विस्फोट हुआ। इसे देखते हुए पोलिंग पार्टी वहां रुक गई।

घात लगाए नक्सलियों ने चलाई गोली

निर्वाचन आयोग के एक अधिकारी ने कहा कि काफिला रुकने के बाद दिग्गल गाड़ी खड़ी करवाकर सड़क पर बाहर खड़ी थीं। इसी दौरान घात लगाए नक्सलियों ने दिग्गल पर गोली चला दी। दिग्गल को सिर में गोली लगी, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गईं। उन्हें तत्काल जिले के अस्पताल ले जाया गया, लेकिन डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। हालांकि इस घटना में पोलिंग पार्टी के अन्य सदस्य जान बचाने में सफल रहे।

Lok sabha election Result 2019 से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए Download patrika Hindi News App.

Show More
Chandra Prakash Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned