ममता ने की छात्रों से दमन और धमकी के आगे नहीं झुकने की अपील

  • कानून रद्द किए जाने तक जारी रहेगा आंदोलन
  • लोगों को आतंकित करने का समर्थन नहीं
  • धमकियों के आगे ना झुकें छात्र

Navyavesh Navrahi

27 Dec 2019, 08:19 AM IST

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) द्वारा शासित राज्यों में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के खिलाफ विरोध प्रदर्शन पर लोगों पर बल प्रयोग नहीं करने की चेतावनी देते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने छात्रों से दमन और धमकी के सामने झुके बगैर अपने आंदोलन को जारी रखने की अपील की।

सीएए : प्रियंका कर सकती हैं शांतिपूर्वक विरोध करने वालों की हौसला-अफजाई

बल के जरिए आंदोलन को दबाने की कोशिश ना करे भाजपा

ममता ने कहा कि- "भाजपा शासित राज्यों विशेष रूप से उत्तर प्रदेश में आंदोलन को रोकने के लिए क्रूरतापूर्ण तरीके से बल का इस्तेमाल किया जा रहा है। लेकिन, मैं भाजपा को बताना चाहूंगी कि बल के जरिए आंदोलन को दबाने की कोशिश नहीं करे। अगर कोई लोगों को आतंकित करने की कोशिश करेगा और क्रूरतापूर्ण तरीके से बल का इस्तेमाल करेगा तो देश के लोग, बंगाल के लोग इसे समर्थन नहीं देंगे।"

पंजाब के राज्यपाल ने विधायकों की नियुक्ति पर मांगा स्पष्टीकरण

आंदोलन जारी रहेगा

उन्होंने कहा कि अधिकारों की रक्षा के लिए आंदोलन जारी रहेगा, चाहे भले ही इसके लिए किसी को अपनी जान देनी पड़े। ममता बनर्जी ने सीएए के खिलाफ एक अन्य मार्च की अगुवाई करते हुए उत्तरी कोलकाता के राजा बाजार में कहा, "कानून को रद्द किए जाने तक आंदोलन जारी रहेगा।"

ठंड में मफलर के बारे में पूछा तो अरविंद केजरीवाल ने दिया बेबाक जवाब

झुकने की जरूरत नहीं

लोगों की भारी भीड़ के बीच उन्होंने कहा कि- "छात्रों को धमकी दी जा रही है कि उनका करियर समाप्त हो जाएगा। उन्हें इन धमकियों के आगे झुकने की जरूरत नहीं और प्रदर्शन जारी रखना चाहिए।"

CAA protest
Navyavesh Navrahi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned