वाइफ को गिफ्ट की ज्वेलरी को लोगों ने कहा चोरी का, सदमे किया सुसाइड और जांच में निकला बेगुनाह

चोरी का आरोप लगा था जिससे दुखी होकर आत्महत्या कर लिया

By: Deepak Sahu

Published: 18 Jun 2018, 05:31 PM IST

रायपुर. छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले में एक युवक पर चोरी का आरोप लगा था जिससे दुखी होकर आत्महत्या करने का मामला सामने आया है। साइट इंचार्ज द्वारा एक युवक पर चोरी का आरोप लगाकर पहले पिटाई की गई फिर युवक द्वारा सबूत पेश करने के बाद जान से मारने की धमकी मिलने से दुखी होकर युवक ने पेड़ में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली है। घटना चक्रधरनगर थाना क्षेत्र की है।

किराए के मकान में रहता था
इस संबंध मृतक की पत्नी ने बताया कि कोरबा जिला के करतला थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम रामपुर नूनदरहा निवासी जितेश कुमाद दुबे २४ वर्ष पिता सुरेश कुमार दुबे पिछले कुछ दिनों से चक्रधरनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम चिटकाकानी में किराए के मकान में रहकर ठेकेदार के अंडर में सेटरिंग का कार्य करता था। इस दौरान युवक ने कुछ दिन पहले एक लडक़ी से प्रेम विवाह कर किया था। कुछ दिन पहले युवक ने अपनी पत्नी के लिए कुछ ज्वेलरी की खरीदारी की थी।
चोरी का आरोप लगाकर की पिटाई
यह बात को जब साइट इंचार्ज संतोष पटेल को पता चला तो 11 जून को उसने अपने दोस्तों के साथ जितेश दुबे के कमरे पर पहुंचा और चोरी का आरोप लगाकर जितेश की पिटाई कर दी। जब जितेश ने बताया कि उसने अपने बैंक खाते से रुपए निकालकर ज्वेलरी की खरीददारी किया है फिर भी मानने से इंकार करते हुए कहा कि तुमने हमारे पैसे चुराए हैं।

लगा ली फांसी
उसकी पत्नी ने बताया कि इस आरोप के बाद जितेश दुबे का बैंक खाता कोरबा में होने के कारण वह कोरबा गया और वहां पासबुक की इंट्री कराकर 15 जून को उसे दिखाया जिस पर पुष्टि होने से नाराज होकर साइड इंचार्ज संतोष पटेल, महिला गार्ड ऊमा और अन्य दोस्तों ने जान से मारने की धमकी देते हुए कहा कि इस गांव से बोरिया-बिस्तर बांध कर निकल जाओ नहीं तो तुम्हारी बाडी को गायब कर देंगे। इस बात से विचलित होकर जितेश दुबे ने शनिवार को सुबह घर नहाने के लिए बोलकर निकला और तालाब के पास पेड़ पर फांसी लगा ली। जब वह काफी समय तक वापस नहीं लौटा तो उसकी पत्नी उसे ढूंढने के लिए निकली तो उसका शव तालाब के पास पेड़ पर लटकती हुई मिली। इसके बाद इसकी सूचना पुलिस को दी गई। रविवार को पीएम के बाद शव उसके परिजनों को सौंप दिया है।

महिला हुई बेसहारा
इस संबंध में जब जितेश के परिजनों से पूछा गया कि अब इसकी पत्नी कहां रहेगी तो इस पर उसके परिजनों ने कहा कि हम लोग दुबे हैं और इसकी पत्नी यादव है। इस कारण इसे अपने घर में रखना संभव नहीं है। अब महिला के सामने काफी समस्या है।

Deepak Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned