HOLI 2020 सुविधाओं से भर जाएगी आपकी झोली, किए जो यह काम

रंगों का महापर्व होली आगामी 9 व 10 मार्च को मनाई जाएगी। 9 मार्च को होली का दहन होगा तो 10 मार्च को रंगपर्व का उत्सव रहेगा। इस बार होली में विशेष संयोग उत्तरफाग्लुनी नक्षत्र में त्रिपुष्कर योग का निर्माण हो रहा है। यह योग होली के महत्व को बढ़ाएगा।

By: Ashish Pathak

Published: 27 Feb 2020, 11:55 AM IST

रतलाम। रंगों का महापर्व होली आगामी 9 व 10 मार्च को मनाई जाएगी। 9 मार्च को होली का दहन होगा तो 10 मार्च को रंगपर्व का उत्सव रहेगा। इस बार होली में विशेष संयोग उत्तरफाग्लुनी नक्षत्र में त्रिपुष्कर योग का निर्माण हो रहा है। यह योग होली के महत्व को बढ़ाएगा। होलिका दहन के लिए इस बार सिर्फ 2 घ्ंाटे 25 मिनट का मुहूर्त बन रहा है। इसके अलावा निशाकॉल में पूजन आदि के कर्म होंगे। राशि अनुसार दहन में सामग्री के दान से विशेष शुभ फल मिलेंगे।

अब शराब पीकर ट्रेन चलाई तो जाएगी आप की 'नौकरी'

astrology in hindi

ज्योतिषी वीरेंद्र रावल ने बताया कि 9 मार्च को पूर्वा फाल्गुनी नक्षत्र में सोमवार को प्रदोषकाल से लेकर निशाकाल तक होलिका दहन किया जाता है। इस बार जो योग बन रहा है यह व्यक्ति सहित शहर के साथ साथ राज्य व देश में सुख-शांति, समृद्धि के अलावा संतान के उज्ज्वल भविष्य की कामना भी पूरी करेगा।

रतलाम सर्किल में भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण ने एयरपोर्ट मंजूर किया

indian astrology in hindi

राशि अनुसार करें होलिका की पूजन

- मेष और वृश्चिक राशि के लोग गुड़ की आहुति दें।

- वृष राशि वाले चीनी की आहुति दें।
- मिथुन और कन्या राशि के लोग कपूर की आहुति दें।

- कर्क के लोग लोबान की आहुति दें।
- सिंह राशि के लोग गुड़ की आहुति दें।

- तुला राशि वाले कपूर की आहुति दें।
- धनु और मीन के लोग जौ और चना की आहुति दें।

- मकर व कुंभ वाले तिल को होलिका दहन में डालें।

PINK BOOK VIDEO दिल्ली रतलाम मुंबई के बीच 200 की स्पीड करने के लिए राशि जारी

astrology tips for money in hindi

होलिका भस्म का होता है खास महत्व

ज्योतिषी रावल के अनुसार होलिका दहन की भस्म को काफी पवित्र माना गया है। इस आग में गेहूं, चना की नई बाली, गन्ना को भुनने से शुभता का वरदान मिलता है। होली के दिन संध्या बेला में इसका टीका लगाने से सुख-समृद्धि और आयु में वृद्धि होती है। इस दिन नई फसल और खुशहाली की कामना भी की जाती है। इस दिन होलिका की आग में सेंक कर लाए गए धान्यों को खाने से शरीर निरोगी रहती है व घर में माता अन्नपूर्णा की कृपा बनी रहती है।

ज्योतिष : शनि की शुक्र पर नजर, पांच राशि वालों का होगा तबादला

Saints played flower holi at Magh mela
IMAGE CREDIT: net

यह रहेगा होलिका का मुहूर्त

होलिका दहन मुहूर्त - शाम 6 बजकर 26 मिनट से रात 8 बजकर 52 मिनट तक।
दहन की कुल अवधि - 2 घंटे 25 मिनट तक।

भद्रा पुंछा - सुबह 9 बजकर 50 से सुबह 10 बजकर 51 मिनट तक।
भद्रा मुखा - सुबह 10 बजकर 51 मिनट से दोपहर 12 बजकर 32 मिनट तक।

शुभ विवाह मुहूर्त 2020 : एक साल में सिर्फ 56 दिन होंगे सात फेरे

VIDEO जामिया मिलिया इस्लामिया स्टूडेंट की स्पीच के बाद अलर्ट

VIDEO रेलवे नहीं चलाएगा मार्च तक इन ट्रेन को, यहां पढे़ पूरी सूची

VIDEO बेटा पढऩे नहीं गया तो नाराज मां ने भेजा जंगल में, बाद में मिला शव

VIDEO मुस्लिमों ने किया फूलों से शाही सवारी का स्वागत, फिर सड़क को किया साफ

holi0.jpg
Holi Holi festival
Show More
Ashish Pathak Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned