5 अप्रैल को दीपक जलाने पर ज्योतिषी ने कही यह बड़ी बात

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोरोना वायरस को समाप्त करने के लिए विज्ञान, आध्यत्म, ज्योतिष योग का संगम करके ही धंटी, ताली बजाने के लिए कहा और अब 5 अप्रैल रविवार को मोमबत्ती, दीपक प्रज्वलित करने का आव्हान किया है। इससेे सुपर थर्मोडायनामिक ऊर्जा पैदा होगी।

By: Ashish Pathak

Published: 04 Apr 2020, 10:21 AM IST

रतलाम. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोरोना वायरस को समाप्त करने के लिए विज्ञान, आध्यत्म, ज्योतिष योग का संगम करके ही धंटी, ताली बजाने के लिए कहा और अब 5 अप्रैल रविवार को मोमबत्ती, दीपक प्रज्वलित करने का आव्हान किया है। इससेे सुपर थर्मोडायनामिक ऊर्जा पैदा होगी। ज्योतिष गणना में ग्रह नक्षत्रों की चाल के जानकार ज्योतिषी रवि जैन ने कोरोना वायरस के बारे में बताया कि ज्योतिष विज्ञान की गणना में सूर्यग्रह को आत्मा व औषधी का कारक ग्रह तो चंद्रमा मन का कारक ग्रह माना है।

देखें VIDEO वाहन लेकर निकलने वालो की हुई पुलिसिया अंदाज में सेवा

Devdeepavali 2019 Bhairav Talab illuminated with 16000 lamps
IMAGE CREDIT: patrika

ज्योतिषी जैन के अनुसार रविवार को सूर्य की आराधना का दिन माना गया है। वर्तमान में मकर राशि में मंगल उच्च का है। इसी राशि में शनि मंगल गुरु साथ में है जो 4 मई तक साथ में रहेंगे। सूर्य 14 अप्रैल तक मीन राशि में रहेगा इसके बाद अपनी उच्च राशि मेष में आ जाएगा। शनिग्रह जो वायू का प्रतीक है, शनिग्रह की पूर्ण दृष्टि सूर्यग्रह पर है जो 14 अप्रैल तक रहेगी। 22 मार्च रविवार को चंद्रमा शनि की राशि कुंभ में 17 डिग्री पर था और सूर्य अपनी राशि सिंह से अष्टम में था। 5 अप्रेैल को चंद्रमा सिंह राशि में 17 डिग्री का ही होगा और इस दिन भी सूर्य अपनी राशि से अष्टम होगा। 5 अप्रैल को शनि सीधे चंद्रमा से ऊपर होगा। शनि ग्रह के प्रतिकूल प्रभाव को कम करने व सूर्य की ऊर्जा से आत्मबल बढाने तथा चंद्रमा की ऊर्जा से मनोबल को बढाने के लिए रविवार जो सूर्य का वार है इसका चयन किया है।

पहली बार देखें VIDEO, किस तरह रेल डिब्बे बदल रहे आईसुलेशन वॉर्ड में

The lamp shone with the light of the lamp
IMAGE CREDIT: patrika

शनिग्रह को वायरस का कारण मानते
ज्योतिषी जैन के अनुसार ज्योतिष में शनिग्रह को वायरस यानि केमीकल बनाने का कारक ग्रह भी माना जाता है। रविवार 22 मार्च को चंद्रमा सूर्य की राशि सिंह से सप्तम होकर कुंभ राशि में शनिग्रह में था। इस कारण वायू यानि आवाज के माध्यम से, ताली बजाकर,घंटी बजाकर सभी को सम्मान देने के साथ ही वायरस के प्रभाव को कम करने के लिए प्रयास किया है। अब 5 अप्रैल को चंद्रमा सूर्य की राशि सिंह में होगा जो शनि की राशि कुम्भ से सप्तम होगा। इसलिए चंद्रमा के बल अर्थात प्रकाश ज्योति को बढाने के लिए रात्रि के समय दीपक जलाने का आव्हन किया है, क्योकि मोमबत्ती व रोशनी जलाने से सुपर थर्मोडायनामिक ऊर्जा पैदा होगी। इससे वायरस का प्रभाव कम होगा।

Weather alert for Madhya Pradesh :गर्मी में होगी झमाझम बारिश, यह रहेगा इसका कारण

भविष्यवाणी : ज्येष्ठ महीने में 13 दिन के बाद बारिश होगी

तबलीगी जमात से जुड़े दस लोगों को क्वारंटाइन में रखा

कोरोना वायरस के बीच GOOD NEWS, रतलाम बनेगा संभाग, जावरा बनेगा जिला

देखें वीडिओ : यह है देश के सबसे बडे़ जुगाडू कर्मचारी

oil-lamps_on_diwali_2019.jpg
Corona virus
Show More
Ashish Pathak Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned