scriptShiva puja special tricks to get blessings | Tricks of shiv puja- भगवान शिव को सोमवार के दिन चढ़ाएं ये खास चीजें, पूरी होंगी आपकी सभी मनोकामनाएं | Patrika News

Tricks of shiv puja- भगवान शिव को सोमवार के दिन चढ़ाएं ये खास चीजें, पूरी होंगी आपकी सभी मनोकामनाएं

Tricks of shiv puja - भक्तों की हर मनोकामना को भी पूर्ण करते हैैं भोलेनाथ

भोपाल

Published: January 23, 2022 03:04:20 pm

Tricks of shiv puja : हिंदू धर्म के आदि पंच देवों व त्रिदेवों में से एक भगवान शिव एक महत्वपूर्ण देव हैं। सप्ताह में इनकी आराधना का दिन सोमवार को माना गया है। जिसके चलते देवों के देव महादेव यानि भगवान शंकर / शिव के अधिकांश भक्त शिवजी के लिए सोमवार का व्रत रखते हैं। वहीं अत्यंत भोले व जल्द ही प्रसन्न हो जाने के कारण इन्हें ही भोलेनाथ भी कहा जाता हैै। संहार के देवता होने के कारण शिवजी ही जगत का संहार भी करते हैं, वहीं इसके साथ ही यह भक्तों की हर मनोकामना को भी पूर्ण करते हैैं।

shiv_puja_on_monday-tricks_1.jpg

माना जाता है कि भगवान शिव की आराधना सोमवार को करने से भक्तों के समसत कष्ट दूर हो जाते हैं। इसके साथ ही मनचाहे वर और वैवाहिक जीवन में सुख शांति के लिए भी भक्त सोमवार का व्रत रखते हैं। जानकारों व पंडित देवीदत्त शर्मा के अनुसार सोमवार का व्रत रखने वाले भगवान शिव के भक्तों को भोलेनाथ को उनका प्रिय प्रसाद चढ़ाना चाहिए। ऐसा करने पर उन्हें जल्द ही शिवजी का आर्शीवाद मिलता है।

masik_shivratri_2022_1.jpg

भगवान शिव को पूजा में ये चीजें चढ़ाएं
भगवान शिव की पूजा के दौरान सोमवार को व्यक्ति को चंदन, अक्षत, बिल्व पत्र, धतूरा या आंकड़े के फूल, दूध, गंगाजल चढ़ाना चाहिए। माना जाता है कि भक्तों द्वारा ऐसा किए जाने से भगवान शंकर जल्दी प्रसन्न होकर उन पर अपनी कृपा बरसाते हैं।

Must Read- शिव का धाम- यहां जप करने से टल जाता है मृत्यु का संकट - ये है हिंदुओं का 5वां धाम

भगवान शिव को इन चीजों का लगाएं भोग
भगवान शिव को सोमवार के दिन घी, शक्कर, गेहूं के आटे से बने प्रसाद का भोग लगाएं। इसके पश्चात भगवान शंकर की आरती धूप, दीप से करें और प्रसाद बांटे। कहते हैं ऐसा करने से शिवजी की कृपा भक्तों पर बरसती है और वे उनके सभी कष्ट दूर कर देते हैं।

Must Read- Masik Shivratri 2022: माघ माह की मासिक शिवरात्रि कब है? जानें तिथि, पूजा मुहूर्त और इस व्रत के फायदे

शिव जी की आराधना, मन की मनोकामना पूरी करने के लिए
मान्यता के अनुसार भगवान शिव जी को प्रसन्न करने के लिए सोमवार के दिन सुबह उठकर स्नानादि नित्य कर्म के पश्चात उनकी आराधना करें।

Must Read- इन पापों को कभी क्षमा नहीं करते भगवान शिव

shiv_blessings.jpg

इसके तहत भगवान शिवजी की पूजा किसी भी भक्त द्वारा सोमवार के दिन पूरे सच्चे मन से करने पर उसके जीवन के सारे क्लेश दूर हो जाते हैं और मनचाही मुराद भी पूर्ण हो जाती हैं।

भगवान शिव के इस मंत्र करें जाप
माना जाता है कि सोमवार को 108 बार महामृत्युंजय के मंत्र का जाप करना चाहिए। जिसके चलते भगवान शिव की भक्तों पर विशेष कृपा होती है। इस दिन गाय के कच्चा दूध को शिवलिंग पर चढ़ाना चाहिए। जिसके फलस्वरूप भक्तों पर कृपा भगवान शिव की बरसती है।

Must Read- सोमवार व्रत: जानें कहां कौन सी गलती कर देते हैं हम? कि नहीं मिल पाता पूरा आशीर्वाद

कुंडली में चंद्र ग्रह की शांति के लिए ये करें
सोमवार के दिन स्नान ध्यान करके सफेद रंग के वस्‍त्रों को धारण करें और फिर माता जी की सेवा करनी चाहिए। इसके साथ ही जरूरतमंद लोगों को इस दिन सफेद रंग की खाद्य सामग्री दान करें। माना जाता है कि ऐसा करने से व्यक्ति की कुंडली में चंद्र ग्रह की स्थिति शुभ हो जाती है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Mumbai Drugs Case: क्रूज ड्रग्स केस में शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को NCB से क्लीन चिटमनी लान्ड्रिंग मामले में फारूक अब्दुल्ला को ED ने भेजा समन, 31 मई को दिल्ली में होगी पूछताछUP Vidhansabha: मुख्यमंत्री Yogi बोले- ... 'हाथ जोड़कर बस्ती को लूटने वाले, सभा में सुधारों की बात करते हैं'Kuldeep Ranka : कौन हैं ये IAS, जिनसे 'ज़लालत' महसूस कर Gehlot के मंत्री ने कर डाली इस्तीफे की पेशकश!Bharat Drone Mahotsav 2022: दिल्ली में ड्रोन फेस्टिवल का उद्घाटन कर बोले मोदी- 2030 तक ड्रोन हब बनेगा भारतRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चकोलकाता में ये क्या हो रहा... एक और मॉडल Manjusha Niyogi की लाश मिलीपहली बार हिंदी लेखिका को मिला International Booker Prize, एक मां की पाकिस्तान यात्रा पर आधारित है उपन्यास
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.