मृत तारे से निकलती तरंगों को देख चौंके वैज्ञानिक, ब्रहमांड का रहस्य सुलझाने में मिलेगी मदद

  • Milky Rays From a Dead Star : मृत तारे से निकली तरंगों और विकिरण के एक साथ आने से खगोलीय गतिविधियों को समझने में आसानी होगी
  • मृत तारे से निकलने वाली किरणें सूर्य से भी कई गुना ज्यादा चमकदार हैं

 

By: Soma Roy

Published: 01 Aug 2020, 11:52 AM IST

नई दिल्ली। यूं तो पूरा ब्रहमांड रहस्यों से भरा हुआ है। ऐसे में कई बार कुछ अजीबो-गरीब घटनाएं भी देखने को मिलती हैं। हाल ही में खगोलविदों ने एक मृत तारे से अचानक कई तरंगे निकलती देखी। इसे देख वे हैरान रह गए। शोधकर्ताओं का मानना है कि यही तरंगे अंतरिक्ष की गुत्थी सुलझाने में मदद करेंगी। इस दुर्लभ दृश्य को ऊर्जा अंतरिक्ष वैधशाला, ESA की ओर से हाईटेक टेलीस्कोप से देखा गया है।

एस्ट्रोफिजिकल जर्नल लैटर्स में प्रकाशित एक अध्ययन के मुताबिक अभी तक फास्ट रेडियो बर्स्ट्स (FBR) और मैग्नेटर्स (Magnetars) के बीच में संबंध की जानकारी नहीं थी। मगर गैलेक्सी मिल्की वे (Milky Way) के एक मृत तारे से निकली तरंगों और विकिरण के एक साथ आने से ब्रहमांड समेत अन्य खगोलीय रहस्यों को सुलझाने में मदद मिलेगी। वैज्ञानिकों का कहना है कि ब्रह्मांड में मैग्नेटर्स के पास ऐसी मैग्नेटिक फील्ड होती है जो सक्रिय होने पर उच्च ऊर्जा वाली विकिरणों के छोटे प्रस्फोट पैदा कर सकते हैं। इनसे निकलने वाली किरणें हमारे सूर्य से भी अरबों गुना ज्यादा चमकदार होती हैं।

इस अध्ययन के प्रमुख लेखक और मिलान में नेशनल इंस्टीट्यूट फॉर एस्ट्रोफिजिक्स के सैंड्रो मेरेगेटी ने मृत तारे को खोजा। उन्होंने बताया कि 28 अप्रैल को इटीग्रल स्पेस ऑबजर्वेटरी का उपयोग कर उन्होंने मैग्नेटर के उच्च ऊर्जा वाले प्रस्फोट को देखा। बताया जाता है कि छह साल पहले वुल्पेक्युला तारा समूह के SGR 1935+2154 नाम का एक मैग्नेटर एक्स रे अप्रैल महीने में प्रस्फोट के बाद सक्रिय हुआ था। तब खगोलविदों को पता चला कि यह मैग्नेटर एक्स रे और रेडियो तरंगें दोनों ही उत्सर्जित कर रहा है।

Show More
Soma Roy Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned