मंदिर में शादी रचाकर सात सालों तक युवती का शारीरिक शोषण करता रहा है टीचर, फिर किया इंकार

suchita mishra

Publish: Jun, 14 2018 03:43:06 PM (IST)

Shahjahanpur, Uttar Pradesh, India
मंदिर में शादी रचाकर सात सालों तक युवती का शारीरिक शोषण करता रहा है टीचर, फिर किया इंकार

टीचर ने अब युवती से सार्वजनिक रूप से शादी करने से इंकार कर दिया है।युवती ने आत्महत्या की धमकी दी है।

शाहजहांपुर। जिले में लव, सेक्स और धोखा का सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां सरकारी टीचर ने गांव की भोली भाली लड़की को पहले अपने प्यार के जाल मे फंसाया, फिर शादी का झांसा देकर सात साल तक अवैध संबंध बनाता रहा था। इस दौरान आरोपी टीचर ने लड़की से एक मंदिर में शादी भी की। उसके बाद जब टीचर के परिजनों को शादी की बात पता चली तो परिजनों ने लड़की को बहू मानने से इंकार कर दिया। जब मामला ग्रामीणों को पता चला तो कुछ माह पहले टीचर ने पीड़िता को पंचायत के सामने शादी करने का आश्वासन दिया।

इसी बीच दोनों परिजनों की सहमति से शादी की डेट भी फिक्स हो गई। लड़की के परिजनों ने शादी के कार्ड भी छपवा लिए थे। लेकिन दो दिन पहले ही टीचर ने शादी करने से फिर इंकार कर दिया। प्यार में धोखा खाने के बाद प्रेमिका शादी न होने पर आत्महत्या करने की बात कर रही है। फिलहाल पीड़िता ने एसपी को प्रार्थना पत्र देकर न्याय की गुहार लगाई है।

दरअसल घटना तिलहर थाना क्षेत्र के एक गांव की है। यहां के रहने वाले 32 वर्षीय अभय सिंह राजपूत पुत्र अशोक कुमार राजपूत गुरूकुल महाविद्यालय में टीचर के पद पर तैनात हैं। पिता अशोक कुमार भी माहविद्यालय में टीचर के पद पर तैनात हैं। उसी गांव में रहने वाली 25 वर्षीय पीड़िता ने बताया कि टीचर अभय राजपूत ने पहले उसको प्यार के जाल मे फंसाया फिर शादी का झांसा देकर उसके साथ सात सालो तक शारीरिक संबंध बनाता रहा। उसके बाद तीन महिने पहले जब लड़की ने शादी करने की बात की तो टीचर शादी की बात को टालने लगा।

पीड़िता के मुताबिक उसके प्रेमी टीचर ने शादी की बात अपने घर में की तो परिजन शादी के लिए राजी नहीं हुए। इसके बाद प्रेमी भी शादी करने से पीछे हट गया और उसने शादी करने से इंकार कर दिया। लेकिन जब पीड़िता ने गांव में बवाल काटा और पुलिस में शिकायत करने की धमकी दी तो गांव में पंचायत के सामने टीचर शादी करने को राजी हो गया और एक अप्रैल 2018 को प्रेमिका को चोरी छिपे उस स्कूल में छिपाकर रखा, जहां वह पढ़ाता था। पीड़िता के मुताबिक वह उस स्कूल में चार दिन तक रहने के बाद उसने हमें शादी का आश्वासन देकर घर छोड़ दिया।

पीड़िता ने बताया कि घर आने के बाद टीचर के परिजन ने हमसे बात की और शादी के लिए राजी हो गए। दोनों परिजनों की सहमति के बाद 29 जून 2018 को शादी होना थी। शादी के कार्ड भी छप गए थे, लेकिन अब दो दिन पहले प्रेमी टीचर के चाचा का फोन आया और उसने शादी से इंकार कर दिया। पीड़िता ने धमकी दी है कि अगर मेरी शादी मेरे प्रेमी से नही हुई तो वे आत्महत्या कर लेगी। फिलहाल एसपी एस चिनप्पा ने पीड़िता को न्याय का भरोसा दिया है।

 

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned