script18 crooks reached the police station raising their hands | योगी आदित्यनाथ के शपथ लेने से पहले बदमाशों में खलबली, 18 अपराधियों ने सरेंडर कर खाई अपराध न करने की कसम | Patrika News

योगी आदित्यनाथ के शपथ लेने से पहले बदमाशों में खलबली, 18 अपराधियों ने सरेंडर कर खाई अपराध न करने की कसम

योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) के दूसरी बार सीएम पद की शपथ लेने से पहले बदमाशों ने हथियार डालने शुरू कर दिए हैं। शामली जिले में एनकाउंटर (Encounter) के डर से मंगलवार को थानाभवन थाने में 18 अपराधी हाथ ऊपर कर पहुंचे। मानों जैसे पुलिस से कह रहे हो कि बस गोली मत मारना। अपराधियों ने पुलिस को शपथ पत्र देते हुए अपराध नहीं करने की कसम खाई।

शामली

Published: March 23, 2022 10:43:28 am

योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) 25 मार्च को लगातार दूसरी बार उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेने वाले हैं। ज्ञात हो कि 2017 में सीएम योगी ने शपथ लेते ही अपराधियों के खिलाफ पुलिस को खुली छूट दे दी थी, जिसके बाद पुलिस एक के बाद एक एनकाउंटर (Encounter) कर बदमाशों ढेर किया या फिर सलाखों के पीछे पहुंचा दिया। अपराधियों को इस बार भी भय सता रहा है कि सीएम योगी शपथ लेते ही उसी तरह का कोई बड़ा ऐलान कर सकते हैं। इसलिए उससे पहले ही बदमाशों ने हथियार डालने शुरू कर दिए हैं। ताजा मामला शामली जिले जहां एनकाउंटर के डर से मंगलवार को थानाभवन थाने में 18 अपराधी हाथ ऊपर कर पहुंचे। मानों जैसे पुलिस से कह रहे हो कि बस गोली मत मारना। अपराधियों ने पुलिस को शपथ पत्र देते हुए अपराध नहीं करने की कसम खाई।
18-crooks-reached-the-police-station-raising-their-hands.jpg
शामली के थानाभवन थाने में भैसानी इस्लामपुर गांव के सात, मसावी गांव के सात और लुहारी गांव के चार अपराधी मंगलवार को एक साथ हाथ ऊपर कर पहुंचे। ये अपराधी गैंगस्टर और गोकशी के हैं। ये महीने पहले ही जेल से बाहर आए थे। इन 18 बदमाशों ने थाने में सरेंडर करते हुए भविष्य में अपराध नहीं करने की कसम खाई। साथ ही कहा कि अब वह मेहनत मजदूरी करेंगे, लेकिन अपराध नहीं करेंगे।
यह भी पढ़ें- योगी आदित्यनाथ के शपथ ग्रहण के साक्षी बनेंगे उद्योगपति, शंकराचार्य और एनआरआई

अब हर हफ्ते थाने में लगानी होगी हाजिरी

थानाभवन थाना प्रभारी प्रेमवीर राणा ने बताया कि पुलिस सभी हिस्ट्रीशीटर बदमाशों पर निगरानी रख रही है। लेकिन, अब अपराधी खुद ही थाने पहुंचे हैं। उन्होंने बताया कि 18 बदमाशों ने थाने में आत्मसमर्पण किया है। साथ ही शपथ पत्र देते हुए भविष्य में अपराध नहीं करने की कसम खाई है। हालांकि इसके बाद सभी को छोड़ दिया है। अब इन्हें हर सप्ताह थाने आकर हाजिरी लगानी होगी। अगर किसी की भी अपराध संलिप्तता पाई गई तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
यह भी पढ़ें- कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा- शपथग्रहण के बाद लोक संकल्प पत्र लागू करने का होगा काम

इन अपराधियों ने किया सरेंडर

भैसानी इस्लामपुर गांव के नौशाद, सुहेब, सनव्वर, सावेज, मेहराब और गुलबहार तो मसावी गांव के उम्मेद, मशरूफ, अकबर, मंजूरा हसन, सलीम, ताहिर और मुस्तकीम तो हसनपुर लुहारी गांव के रहने वाले सलीम, इन्तजार, नौशाद, शहजाद और नौशाद पुत्र फरमान ने थाने में सरेंडर किया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन को आकर्षित करती है कछुआ अंगूठी, लेकिन इस तरह से पहनने की न करें गलतीज्योतिष: बुध का मिथुन राशि में गोचर 3 राशि के लोगों को बनाएगा धनवानपैसा कमाने में माहिर माने जाते हैं इस मूलांक के लोग, तुरंत निकलवा लेते हैं अपना कामजुलाई में चमकेगी इन 7 राशियों की किस्मत, अपार धन मिलने के प्रबल योगडेली ड्राइव के लिए बेस्ट हैं Maruti और Tata की ये सस्ती CNG कारें, कम खर्च में देती हैं 35Km तक का माइलेज़ज्योतिष: रिश्ते संभालने में बड़े कच्चे होते हैं इस राशि के लोगजान लीजिए तुलसी के इस पौधे को घर में लगाने से आती है सुख समृद्धिहाथ में इन निशान का होना मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होने का माना जाता है संकेत

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: फ्लोर टेस्ट के खिलाफ शिवसेना की अर्जी सुप्रीम कोर्ट में मंजूर, आज शाम 5 बजे होगी सुनवाईMaharashtra Political Crisis: 30 जून को फ्लोर टेस्ट के लिए मुंबई वापस पहुंचेगा शिंदे गुट, आज किए कामाख्या देवी के दर्शनMumbai News Live Updates: फ्लोर टेस्ट के खिलाफ शिवसेना की अर्जी सुप्रीम कोर्ट में मंजूर, आज ही होगी सुनवाईनवीन जिंदल को भी कन्हैया लाल की तरह जान से मारने की मिली धमकी, दिल्ली पुलिस से की शिकायतUdaipur Kanhaiya Lal Murder: बैकफुट पर गहलोत सरकार, अब मंत्री बोले, 'ऐसे लोगों को ठोके पुलिस' और दी जाए 'फांसी'Udaipur Murder Case: राजस्थान में एक माह तक धारा 144, पूरे उदयपुर में कर्फ्यू, जानिए अब तक की 10 बड़ी बातेंMohammed Zubair’s arrest: 'पत्रकारों को अभिव्यक्ति के लिए जेल भेजना गलत', ज़ुबैर की गिरफ्तारी पर बोले UN के प्रवक्ता1 जुलाई से बैन: अमूल, मदर डेयरी को नहीं मिली राहत, आपके घर से भी गायब होंगे ये समान
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.