TET 2018, 03 दिन बाकी, बदल दिया परीक्षा केंद्र

अभ्यर्थियों का प्रवेश पत्र इंटरनेट पर कर दिया गया है अपलोड। परीक्षार्थियों की परीक्षा छूटने का आंदेशा।

By: Ajay Chaturvedi

Published: 15 Nov 2018, 06:04 PM IST

वाराणसी. शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) आगामी 18 नवंबर को होनी है। इसके लिए अभ्यर्थियों के प्रवेश पत्र तक इंटरनेट पर अपलोड किए जा चुके है। तीन दिन ही शेष बचे हैं। अभ्यर्थी अपना-अपना प्रवेश पत्र डाउनलोड कर तैयारी में जुटे हैं। इस बीच वाराणसी में एक केंद्र बदल दिया गया है। ऐसे में अचानक हुए इस परिवर्तन के चलते परीक्षा के दिन अभ्यर्थियों को भारी मुसीबत झेलनी तय है। आपाधापी में कई परीक्षार्थियों की परीक्षा छूटने का भी अंदेशा है। ऐसे 499 अभ्यर्थी हैं जिन्हें ऐन परीक्षा के दिन परेशानी झेलनी पड़ सकती है।

बता दें कि टीईटी के लिए माध्यमिक शिक्षा विभाग की ओर जिले में पहली पाली यानी प्राथमिक स्तर की परीक्षा के लिए 68 और द्वितीय पाली यानी उच्च प्राथमिक की परीक्षा के लिए 39 केंद्र बनाए गए थे। लेकिन जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ विजय प्रकाश सिंह ने अंतिम समय में गुरुनानक खालसा बालिका इंटर कॉलेज, गुरुबाग परीक्षा केंद्र को सिद्धगिरिबाग स्थित मुकुलारण्यम इंग्लिशन स्कूल स्थानांतरित कर दिया है।

डीआईओएस के अनुसार अब गुरुनानक खालसा बालिका इंटर कॉलेज की प्रथम पाली में होने वाली परीक्षा के 22491 से 22990 अनुक्रमांक और द्वितीय पाली के 22491 से 22990 तक के अभ्यर्थी अब मुकुलारण्यम इंग्लिश स्कूल में परीक्षा देंगे।

हालांकि बताया जा रहा है कि इस परिवर्तन के लिए गुरुनानक बालिका इंटर कॉलेज प्रशासन ने ही अनुरोध किया था। इसके तहत बताया था कि गुरु गोविंद सिंह जयंती के उपलक्ष्य में 18 नवंबर को विद्यालय परिसर में कुछ विशेष आयोजन हैं जिसके चलते परीक्षा की शुचिता प्रभावित हो सकती है।

इस बीच विभाग द्वारा अभ्यर्थियों को सचेत किया गया है कि परीक्षा के दौरान उत्तर पुस्तिका में अगर किसी अभ्यर्थी ने ह्वाइटनर का प्रयोग किया तो उसकी ओएमआर शीट का मूल्यांकन नहीं होगा। सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी अनिल भूषण की ओर से जारी निर्देश में कहा गया है कि ओएमआर शीट पर कुछ भी अशुद्ध लिखने के बाद उस पर सफेदा का प्रयोग कतई न किया जाए।

Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned