दसवीं की परीक्षाएं ली जाएं या नहीं, राजस्थान बोर्ड प्रशासन ने सरकार पर छोड़ा फैसला

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की दसवीं की परीक्षाओं पर एक बार फिर संशय बन गया है। हालांकि बारहवीं की परीक्षाएं रद्द नहीं की जाएगी। बारहवीं का अंतिम पेपर शनिवार को होगा।

By: santosh

Updated: 26 Jun 2020, 05:01 PM IST

अजमेर। राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की दसवीं की परीक्षाओं पर एक बार फिर संशय बन गया है। परीक्षाएं ली जाए अथवा नहीं इसका फैसला बोर्ड प्रशासन ने अब राज्य सरकार पर छोड़ दिया है। हालांकि बारहवीं की परीक्षाएं रद्द नहीं की जाएगी। बारहवीं का अंतिम पेपर शनिवार को होगा।

सीबीएसई ने एक जुलाई से ली जानी वाली दसवीं आौर बारहवीं की परीक्षाएं रद्द कर दी है। इसके बाद से ही राजस्थान शिक्षा बोर्ड की परीक्षाओं को लेकर भी अभिभवाकों और विद्यार्थियों में संशय की स्थिति बन गई है। राजस्थान बोर्ड प्रशासन भी गुरुवार को परीक्षाओं को लेकर मंथन में जुटा रहा । हालांकि परीक्षाआों को रद्द करने अथवा नहीं करने का फैसला सरकार के पाले में डाल दिया गया है। दसवीं की परीक्षा 29 और 30 जून को ली जानी है। 29 जून को सामाजिक विज्ञान और 30 जून को गणित की परीक्षा होनी है।

सरकार करेगी फैसला
बोर्ड अध्यक्ष डॉ.डी.पी. जारोली ने पत्रिका को बताया कि सीबीएसई परीक्षाओं को रद्द करने का फैसला सरकार ने किया है। राजस्थान बोर्ड की परीक्षाओं को लेकर भी उम्मीद है कि सरकार ही कोई निर्णय करेगी। उन्होंने बताया कि शुक्रवार को बोर्ड अधिकारियों के साथ विचार-विमर्श होगा। उसके बाद जरुरत हुई तो परीक्षाओं को लेकर सरकार से मार्गदर्शन मांगा जाएगा। डॉ.जारोली ने बताया कि सीबीएसई परीक्षाओं में विद्यार्थियों की संख्या काफी कम है जबकि राजस्थान बोर्ड की दसवीं की परीक्षाओं में विद्यार्थियों का आंकड़ा लगभग साढे़ 11 लाख है। प्रत्येक मुद्दे पर सोच विचार के बाद ही निर्णय किया जा सकता है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned