Breaking : चीखने की आवाज सुन पहाड़ पर गए तो देखा- किशोरी से रहा हो था दुष्कर्म, सहेली ने ऐसे दिया धोखा

छोटा हाथी वाहन में आरोपी दे रहा था घिनौनी वारदात को अंजाम, आरोपी युवक को पकड़कर लोगों ने किया पुलिस के हवाले

By: rampravesh vishwakarma

Published: 10 Feb 2018, 05:41 PM IST

अंबिकापुर. 14 वर्षीय एक किशोरी को 8 फरवरी की शाम उसकी सहेली अपने साथ यह कहकर ले गई कि मामा से मिलने चलो। जब वहां किशोरी पहुंची तो छोटा हाथी का चालक व उसका दोस्त पहले से खड़े थे। इसके बाद चारों वाहन में बैठकर चले गए। कुछ दूर जाने के बाद सहेली व एक युवक उतर गए, जबकि किशोरी को जबरन छोटा हाथी चालक अपने साथ पहाड़ पर ले गया।

यहां वाहन में ही वह किशोरी से दुष्कर्म करने लगा। किशोरी जब चीखने-चिल्लाने लगी तो आवाज सुनकर आस-पास के लोग दौड़े। इसके बाद उन्होंने आरोपी चालक को पकड़कर कोतवाली पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने आरोपी युवक को जेल भेज दिया है।


बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के ग्राम डीपाडीह निवासी एक महिला अपनी 14 वर्षीय बेटी के साथ अंबिकापुर के केदारपुर में रहती है। 8 फरवरी की शाम करीब 4 बजे उसकी बेटी घर के बाहर खेल रही थी। इसी दौरान पड़ोस में ही रहने वाली उसकी सहेली वहां पहुंची। उसने कहा कि मामा से मिलने जाना है वे थोड़ी दूर पर खड़े हैं। सहेली की बात सुनकर वह साथ में चली गई।

यहां छोटा हाथी वाहन का चालक बतौली के ग्राम बांसाझाल निवासी कन्हैया यादव पिता रामेश्वर यादव 22 वर्ष अपने दोस्त पिंटू बहेलिया के साथ खड़ा था। इसके बाद चालक व उसका दोस्त किशोरी व उसकी सहेली को वाहन में बैठाकर ले गए।

थोड़ी दूर जाने के बाद सहेली व पिंटू बहेलिया उतर गए, जबकि चालक वाहन में किशोरी को जबरन ले गया। वह वाहन को नगर के महामाया पहाड़ पर ले गया। इस दौरान रात हो चुकी थी। यहां वह वाहन में ही किशोरी से अनाचार करने लगा।


चीखने-चिल्लाने पर पहुंचे लोग
छोटा हाथी चालक द्वारा अनाचार किए जाने के दौरान किशोरी जोर-जोर से चिल्लाई। आवाज सुनकर आस-पास के लोग दौड़कर पहुंचे। उन्होंने देखा कि चालक किशोरी से जबरदस्ती कर रहा है। इसके बाद उन्होंने चालक को पकड़ लिया और अच्छी खातिरदारी की।

फिर उन्होंने कोतवाली पुलिस को बुलाकर आरोपी को उनके हवाले कर दिया। पुलिस ने किशोरी की रिपोर्ट पर धारा 363, 366ए, 376 व पॉक्सो एक्ट की धारा 4, 5 के तहत अपराध दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उसे न्यायालय में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned