पाकिस्तान: जारी है अल्पसंख्यकों का उत्पीड़न, अब हिंदू महिला को टॉर्चर कर उतारा मौत के घाट

पाकिस्तान: जारी है अल्पसंख्यकों का उत्पीड़न, अब हिंदू महिला को टॉर्चर कर उतारा मौत के घाट

Shweta Singh | Publish: Aug, 12 2018 07:04:55 PM (IST) | Updated: Aug, 12 2018 07:04:56 PM (IST) एशिया

इस मामले की जानकारी पाकिस्तान की एक पत्रकार के ट्वीट से मिली।

इस्लामाबाद। पाकिस्तान में आए दिन अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों के उत्पीड़न की खबरें आती रहती हैं। कुछ समय पहले ही वहां के एक सिख अफसर के साथ मारपीट और जबरन उसे बेघर करने की खबर सामने आई थी। अब फिर से कुछ ऐसा ही मामला सामने आ रहा है। इस बार कुछ अज्ञातों ने एक हिंदू महिला को निशाना बनाया है। उसके साथ हुई हिंसा के खिलाफ स्थानीय में आक्रोश है, लोग सड़को पर उतर कर प्रदर्शन कर रहे हैं।

टॉर्चर कर उतारा मौत के घाट

जानकारी के मुताबिक इन लोगों ने पहले महिला को टॉर्चर किया उसके बाद भी उन्हें तसल्ली नहीं मिली तो उन्होंने उसकी जान ले ली। इस मामले की जानकारी पाकिस्तान की एक पत्रकार के ट्वीट से मिली। ट्वीट में लिखा है कि ‘यह बर्मा नहीं है, ना फलस्तीन और ना ही कश्मीर। ये सिंध का मोरो शहर है, जहां मेवी भागरी नाम की एक हिंदू महिला को टॉर्चर करने के बाद हत्या कर दी गई। पत्रकार के पोस्ट में ये भी जानकारी दी गई है कि महिला की बॉडी एक बोरे में डालकर सड़क किनारे फेंक दी गई। यही नहीं जब लोगों ने मामले को लेकर प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन किया तो पुलिस ने उन पर लाठी चार्ज कर दी।’

प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक घटना की जानकारी जैसे ही लोगों में फैली गुस्साए लोग सड़कों पर उतरने लगे और ट्रैफिक जाम कर दिया। लोगों ने प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। लेकिन पुलिस ने नाराज भीड़ पर लाठीचार्ज कर उन्हें वहां से खदेड़ दिया।

मामले की जांच में जुटी पुलिस

हालांकि पुलिस महिला के हत्या की जांच में जुटी हुई है। बता दें कि ये इस तरह का पहला मामला नहीं है, इससे पहले बीते जून में भी एक हिंदू महिला की इसी तरह से पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत में हत्या कर दी गई थी। मृतक महिला के भाई ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि इलाके के कुछ बाहुबलियों ने लोगों ने उसकी बहन की बिना किसी कारण के हत्या कर दी।

Ad Block is Banned