केंद्र के खिलाफ सड़क पर उतरी आम आदमी पार्टी, लगाया गंभीर आरोप

Varanasi Uttar Pradesh

Publish: Oct, 12 2017 06:22:04 PM (IST)

Azamgarh, Uttar Pradesh, India
केंद्र के खिलाफ सड़क पर उतरी आम आदमी पार्टी, लगाया गंभीर आरोप

जिला मुख्यालय पर विरोध प्रदर्शन कर की कार्रवाई की मांग

आजमगढ़. अपने तीन साल के कार्यकाल में केंद्र की भाजपा सरकार पहली बार अमित शाह के पुत्र की संपत्ति को लेकर भ्रष्टाचार के मामले में घिरी नजर आ रही है। आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने नोटबंदी और जीएसटी के बाद भी जय शाह की संपत्ति में हुई बेतहाशा वृद्धि की जांच कराकर कार्रवाई की मांग की। वक्ताओं ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के पुत्र जय शाह की कम्पनी जिसका वर्ष 2014-15 के दौरान वार्षिक कारोबार 50 हजार रूपये का था वो नोटबंदी और जीएसटी के बाद भी 16 हजार गुना के बेतहाशा वृद्धि के साथ 80.50 करोड़ का कराबोर कर ली, जो निश्चित रूप से भ्रष्टाचार का एक बहुत बड़ा उदाहरण है।

 

यह भी पढ़ें- निकाय चुनावः सपा और भाजपा पर भारी पड़ सकती है यह जंग

 

उन्होंने कहा कि नोटबंदी के दौरान जनता त्राहि-त्राहि कर लाइनों में खड़ी होकर जान दे रही थी। उस दौरान सत्ता पक्ष के नजदीकि उद्योगपति और भाजपा के नेता पैसों में बेतहाशा वृद्धि के साथ फोर्ब्स जैसे पत्रिका में नाम दर्ज करवा रहे थे। इधर देश के किसान, व्यापारी, और बेरोजगार दम तोड़ रहा था और भाजपा राष्ट्रवाद का नारा लगाकर अपने लोगों पर कृपा कर रही है। इस दौरान गौतम अडानी की कम्पनी के कारोबार में 66 प्रतिशत वृद्धि, मुकेश अंबानी के कारोबार में 67 प्रतिशत की वृद्धि, बाबा रामदेव के कारोबार में 173 प्रतिशत की वृद्धि, अमित शाह के कारोबार में 300 प्रतिशत की वृद्धि और जय शाह के कारोबार में 16000 प्रतिशत की बेतहाशा वृद्धि हो गई। जब यह लूट उजागर हुई तो सरकार के रेलमंत्री कम्पनी के प्रतिनिधि की तरह टीवी पर आकर सफाई दे रहे हैं।

 

यह भी पढ़ें- सपा के पूर्व बाहुबली मंत्री के गढ़ में पैठ बनाने की कोशिश में भाजपा

 

आप नेताओं ने कहा कि भाजपा अपने लोगों को गलत तरीको से फायदा पहुंचा रही है। सारे देश की जनता मंहगाई के बोझ तले मर रही है और सरकार में बैठे लोगों का कारोबार दिन रात बढ़ रहा है। प्रदर्शन करने वालों में शाहिद खां, निहाल हाशिम, आरिफ, सतीश चन्द्रा, रविन्द्र, उमेश यादव, आस्था सिंह, नुरूज्जमा, साकेत राय, रामरूप यादव, धर्मेन्द्र , भोला, नितीश, शैलेष, डिम्पल, चमेली, लक्ष्मण, अमित, प्रिंस, संजय, कुबेर, सोनू, विश्वनाथ, राजीव चावला आदि शामिल थे।

by Ran Vijay Singh

 

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

1
Ad Block is Banned