सरकार ने हम पर लाठियां बरसवा कर ठीक नहीं किया: सीमा यादव

आंगनबाड़ी कार्यकत्रियां ने कहा, आने वाले 2019 चुनाव में भाजपा को सिखायेंगे सबक

आजमगढ़. आंगनबाड़ी कर्मचारी एवं सहायिका एसोसिएशन ब्लाक इकाई तहबरपुर का धरना अनवरत जारी है। सोमवार को आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों ने कहा कि 17 सूत्री मांगों को लेकर चलाया जा रहा धरना शासन-प्रशासन के संज्ञान में है। इसके बावजूद हमारी मांगों पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। जब तक मांगे नहीं पूरी होंगी तब तक धरना जारी रहेगा।

 

यह भी पढ़ें- 2019 में मोदी सरकार को उखाड़ फेकेंग, शिक्षामित्रों ने पीएम और सीएम को चेताया

 

ब्लाक अध्यक्ष कंचन यादव ने सीडीपीओ तहबरपुर मनोज सिंह पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों एवं सहायिकाओं पर वजन दिवस मनाने के लिए दबाव बना रहे हैं। पर कार्यकत्रियां वजन दिवस मनाने को तैयार नहीं हैं। शासन हमारी जायज मांगों को पूरा नहीं कर रहा है। अपनी मांगों को लेकर जब आंगनबाड़ी कार्यकत्रियां व सहायिकाएं जब लखनऊ में धरनारत थी तो पुलिस ने इनके ऊपर बर्बरतापूर्वक लाठीचार्ज किया जिसकी संगठन घोर निन्दा करता है। उन्होंने कहा कि सीडीपीओ जांच के दौरान डरा-धमकाकर 16 आंगनबाड़ी केंद्र खोलवाएं थे, वे केंद्र पर जाकर आंगनबाडियों को बुलवाये। उन्होंने सीडीपीओ से जबाव मांगा कि वे किस वाहन से क्षेत्र के 210 केंद्रों पर गये, और कितना समय दिया। सीडीपीओ अगर हमारा सहयोग नहीं कर रहे हैं तो वह आंगनबाड़ियों को धमकाने का काम भी न करें।

 

यह भी पढ़ें- मुलायम के गढ़ में फेल हो सकता है मायावती का दांव, अपने ही जाल में उलझी बसपा

 

कोषाध्यक्ष पूनम राय ने सीडीपीओ पर आरोप लगाते हुए कहा कि जब से तहबरपुर ब्लाक का कार्यभार संभाले हैं तब से वह पुष्टाहार में धनउगाही कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जून माह की छूट्टी का भी कार्यकत्रियों से एक हजार रूपये देने के लिए बाध्य किया गया। यह सभी को मालूम है कि प्रदेश के सभी ब्लाकों में कार्यकत्रियों ने बहिष्कार किया है। हमारी मांगों को सरकार जल्द पूरा नहीं करती है तो आंदोलन और उग्र होगा। अंत में अध्यक्षीय सम्बोधन में जिलाध्यक्ष सीमा यादव ने कहा कि योगी सरकार ने हम पर लाठियां बरसवा कर ठीक नहीं किया है। महिला उत्थान की बातें करने वाले मोदी सरकार के मुख्यमंत्री द्वारा की गयी बर्बरतापूर्ण की कार्यवाही का हम मुंहतोड़ जबाव देंगे। सरकार हमारी मांगे पूरी करें नहीं तो 2019 में हर स्तर पर इनका विरोध करेंगे। इस अवसर पर साधना, शांति, पिंटू, कुसुम राय, संगीता सिंह, रेखा, सितारा, वन्दना, शारदा, सुनीता, नीशू, उर्मिला, सरिता, शीला, उषा, इन्दू आदि मौजूद रहीं।

by Ran Vijay Singh

 

 

Show More
वाराणसी उत्तर प्रदेश
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned