श्रावण के पहले सोमवार यहां मिले कोबरा प्रजाति के सैकड़ों सपोले, लोग मान रहे चमत्कार

यहां एक साथ मिले सैकड़ों कोबरा, जहां एक तरफ कुछ लोग इस घटना से घबराए हुए हैं, वहीं कुछ लोग इसे चमत्कार बता रहे हैं।

By: Faiz

Updated: 07 Jul 2020, 01:00 PM IST

बैतूल/ मध्य प्रदेश के बैतूल ज़िले में श्रावण के पहले सोमवार ( savan somvar ) खेत को एक खेत की मेढञ के पास कोबरा प्रजाति के सैकड़ों सपोले ( snake ) मिले हैं। ये बात तो सभी जानते हैं कि, कोबरा बेहद ज़हरीला सांप होता है। इतनी बड़ी तादाद में कोबरा के सपोले मिलने से गांव के लोग घबरा गए हैं। वहीं, कुछ लोग इस घटना को चमत्कार से भी जोड़कर देख रहे हैं। उनका कहना है कि, श्रावण के पहले सोमवार पर हुई ये घटना अद्भुत है। घटना के इलाके में फैलते ही किसान के घर पूजा करने आने वालों का हुजूम लग गया।

 

पढ़ें ये खास खबर- बके से हमला कर की पत्नी की हत्या, फिर खुद ट्रेन से कटकर दे दी जान, ये थी वजह

 

किसान ने इकट्ठा कर एक बर्तन में रखे

बैतूल के चूनालोहमा गांव मे एक खेत के किनारे कोबरा प्रजाति के सैकड़ों सपोले मिले हैं। जिस किसान के खेत मे ये सपोले मिले उसने इन्हें इकट्ठा करके एक बर्तन में रख दिया है। हालांकि, ऐसा करना काफी खतरनाक हो सकता है क्योंकि कोबरा प्रजाति के सांप जन्म से ही विषैले होते हैं, सांप के बच्चे में ही इतना जहर होता है, कि उसके एक बार काटने पर इंसान की जान जा सकती है।

 

पढ़ें ये खास खबर- पत्नी की हत्या कर शव को पेटी में छुपाया, फिर उसी पर सो गया, इस तरह खुला राज


सावन में सांप

news

एक तरफ जहां किसीन समेक आसपास के लोगों में डर का माहौसल है, वहीं दूसरी तरफ श्रावण महीने के पहले सोमवार को हुई इस घटना ने गांव में अलग ही माहौल बना दिया है। लोग पूजा पाठ करने यहां पहुंचने लगे और देखते ही देखते किसान के घर के बाहर लोगों का हुजूम लग गया। हालांकि, अब तक वन विभाग को इसकी सूचना किसी ने भी नहीं दी है। जबकि सर्प विशेषज्ञों के अनुसार, कोबरा प्रजाति के होने की वजह से इनका इंसानी हाथों में पड़ना दोनों के लिए घातक हो सकता है। इसलिए इन्हें जंगल मे सुरक्षित स्थान पर छोड़ना ही सबसे बेहतर विकल्प होगा।

 

पढ़ें ये खास खबर- खुलासा : प्रेमिका की हो रही थी कहीं और शादी, मंडप में बैठने से पहले प्रेमी ने कर दी हत्या


बारिश में विषैले जन्तु

फिलहाल मानसून की आमद हो चुकी है और अब सर्प जहां तहां नज़र आते रहेंगे इसलिए इसे कोई चमत्कार ना मानकर सामान्य तौर पर लेना चाहिए। बैतूल वैसे भी जंगलों से भरपूर इलाका है, इसलिए बारिश में यहां जंगली जानवर से लेकर जीव-जन्तु और कीड़े-मकौड़े निकलना एक आम सी बात है।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned