scriptMPPSC परीक्षाओं में 2 एजेंसियां कर रही सख्त निगरानी, एग्जाम हॉल में बैन हैं ये 7 चीजें | MPPSC exam: 2 agencies will strictly monitor MPPSC examinations | Patrika News
भोपाल

MPPSC परीक्षाओं में 2 एजेंसियां कर रही सख्त निगरानी, एग्जाम हॉल में बैन हैं ये 7 चीजें

MPPSC exam: ईएसबी ने सिस्टम को और मजबूत करने के लिए दो एजेंसियों को नियुक्त करने का निर्णय लिया है। एक एजेंसी ऑनलाइन एग्जाम कराएगी, तो वहीं दूसरी एग्जाम और एग्जाम कराने वाली एजेंसी पर निगरानी रखेगी।

भोपालJun 23, 2024 / 08:55 am

Ashtha Awasthi

MPPSC exam

MPPSC exam

MPPSC EXAM: नीट यूजी और यूजीसी नेट परीक्षा को लेकर मचे बवाल के बाद मध्यप्रदेश लोकसेवा आयोग (एमपीपीएससी) और कर्मचारी चयन मंडल (इएसबी) ने परीक्षा व्यवस्था सख्त कर दी है। रविवार से शुरू होने वाली मप्र लोक सेवा आयोग की वन सेवा प्रारंभिक परीक्षा में परीक्षार्थियों को सख्त चैकिंग से गुजरना होगा।
आयोग ने जिला स्तर पर पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की है। पूर्व में संभाग स्तर टीम का गठन किया जाता था। परीक्षा में किसी तरह की गड़बड़ी न हो इसके लिए परीक्षार्थियों पर ऑब्जर्वर की भी नजर रहेगी।

सुरक्षा और सतर्कता अधिकारी का नंबर जारी

किसी भी तरह की गड़बड़ी या समस्या के लिए अभ्यर्थी 83059-73940 पर सुरक्षा एवं सतर्कता अधिकारी से संपर्क कर सकते हैं।

इन पर रहेगी पाबंदी

परीक्षा केंद्रों पर किसी भी इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस के इस्तेमाल को रोकने के लिए जूते-मोजे पहनकर प्रवेश वर्जित होगा। चेहरे को ढंककर प्रवेश नहीं कर पाएंगे। एक्सेसरीज जैसे बालो को बांधने का क्लचर, घड़ी, हाथ में पहने जाने वाले किसी भी प्रकार के बैंड, बेल्ट, गॉगल, पर्स, वॉलेट, टोपी वर्जित है।

नवंबर तक 9 भर्ती परीक्षाएं

कर्मचारी चयन मंडल आयोग नवंबर तक 9 भर्ती परीक्षाएं कराएगा। 9 विभागों में लगभग 30 हजार पदों पर होने वाली परीक्षाओं में 5 लाख से अधिक युवा शामिल होने की उम्मीद है। ईएसबी के अधिकारियों ने भी परीक्षा व्यवस्था में बदलाव की बात कही है।
ये भी पढ़ें: इन रूटों पर 6 एक्सप्रेस-वे बनाने जा रही भाजपा सरकार ! 100 दिन में पूरा होगा काम

42 सेंटर पर होगी परीक्षा

वन सेवा प्रारंभिक परीक्षा के लिए भोपाल में 42 सेंटर बनाए गए हैं, जहां करीब 16,600 अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल होंगे। प्रदेशभर से परीक्षा में 1.83 लाख अभ्यर्थी शामिल होंगे। परीक्षा 110 पदों पर भर्ती के लिए आयोजित की जा रही है।

सुरक्षा पर भी होगी नई एजेंसी की नजर

-ईएसबी ने सिस्टम को और मजबूत करने के लिए दो एजेंसियों को नियुक्त करने का निर्णय लिया है। एक एजेंसी ऑनलाइन एग्जाम कराएगी, तो वहीं दूसरी एग्जाम और एग्जाम कराने वाली एजेंसी पर निगरानी रखेगी।
-जितने सेंटरों पर परीक्षा होगी, कंट्रोल रूम से उतने ही लोग निगरानी रखेंगे। केंद्र में क्या कुछ चल रहा है ये सब देख सकेंगे।

-बायोमेट्रिक ऑथेंटिकेशन और अटेंडेंस मार्किंग का कार्य अब एग्जाम लेने वाली एजेंसी के साथ सिक्योरिटी एंजेंसी भी लेगी।
-एग्जाम सेंटर में प्रवेश के समय प्रत्येक स्टूडेंट की हैंड हेल्ड मेटल डिटेक्टर सर्विस द्वारा चेकिंग की जाएगी।

-नई व्यवस्था में सीसीटीवी के जरिए निरीक्षण और डिजिटल सुरक्षा को मजबूत किया गया है।

Hindi News/ Bhopal / MPPSC परीक्षाओं में 2 एजेंसियां कर रही सख्त निगरानी, एग्जाम हॉल में बैन हैं ये 7 चीजें

ट्रेंडिंग वीडियो