scripttoll recieve is most important on travel time at highway | लॉग ड्राइव पर संभाल कर रखें टोल की रसीदें, मिलेंगे ये खास फायदे | Patrika News

लॉग ड्राइव पर संभाल कर रखें टोल की रसीदें, मिलेंगे ये खास फायदे

नेशनल और स्टेट हाइवे पर जाते समय मिलने वाली टोल रसीदों को संभालकर रखें, ये आपके बेहद काम आएंगी। जानिए इनसे मिलने वाले लाभ।

भोपाल

Updated: November 08, 2019 10:54:12 am

भोपाल/ आजकल मौसम बड़ा सुहाना है। ऐसे में कई लोगों ने कहीं आउटिंग का मन बना रखा होगा। कई लोग अपने कामों के चलते शहर या प्रदेश से बाहर जाते रहते होंगे। इस दौरान राज्य या राष्ट्रीय राजमार्ग सड़कों से गुज़र होना स्वभाविक सी बात है। ऐसे में आपके सामने कई बार टोल बूथ्स भी आए होंगे, जो आगे की यात्रा जारी रखने के लिए आपसे एक तय धनराशि वसूलते हैं। इसके बदले वो आपको रसीद देते हैं।कई लोग ये रसीदें लेकर तुरंत ही फैंक देते हैं। लेकिन, क्या आपको पता है कि ये रसीदें सिर्फ आपको आगे की यात्रा जारी रखने के लिए ही नहीं मिलतीं, बल्कि इन रसीदों के कई फायदे भी हैं।

informative news
लॉग ड्राइव पर संभाल कर रखें टोल की रसीदें, मिलेंगे ये खास फायदे

पढ़ें ये खास खबर- पातालकोट और नरो हिल्स को मिली दुनियाभर में पहचान, इस खास विरासत को सहेजेगी सरकार

इसलिए अब जब भी आप शहरी सीमा से बाहर कहीं जाएं तो इन रसीदों को तब तक जरूर संभालकर रखें, जब तक आप अपनी यात्रा जारी रखने वाले हैं। अगर आपने इन रसीदों को फैंक देंगे, तो आप इन फायदों से वंचित रह जाएंगे। जिस टोल पर आपने रुपये देकर रसीद हासिल की है। वहां से आने वाले अगले टोल तक मिलने वाले फायदे से आप वंचित रह जाएंगे। नेशनल हाईवे हो या सेटेट हाईवे इनके टोल बूथ पररुपये देने के बाद आपको जो रसीद मिलती है उस पर आपको करीब चार फोन नंबर लिखे हुए मिल जाते हैं। ये फोन नंबर हेल्पलाइन, क्रेन सर्विस, एंबुलेंस सर्विस और पेट्रोल सर्विस के लिए टोल बूथ पर मिलने वाली पर्ची पर लिखे होते हैं।

पढ़ें ये खास खबर- बुजुर्गों के लिए खुशखबरी, किसी भी दुकान से खरीदें सस्ता सामान

राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण, आपसे टोल शुल्क लेने के बदले में यात्रा के दौरान आपको ये सेवाएं उपलब्ध कराता है। ये चारों नंबर आपको नेशनल हाइवे अथारिटी ऑफ इंडिया की साइट अधिकारिक वेबसाइट पर http://tis.nhai.gov.in/TollInformation?TollPlazaID=200 मिल जाएंगे। खास बात ये है कि इन सभी हेल्पलाइन नंम्बर्स पर तत्काल एक्शन लिया जाता है। हमने खुद एक सामान्य व्यक्ति की तरह इन सभी हेल्पलाइन नंबर की पड़ताल की है, सामने आया कि, जैसे ही इनसे संपर्क साधा गया, वैसे ही फोन किया और इन सभी पर हमें त्वरित और पॉजिटिव रिस्पांस मिला।

पढ़ें ये खास खबर- अद्भुत खगोलीय घटना: सूरज के चेहरे पर दिखेगा तिल, 13 साल बाद दिखेगा ऐसा नजारा


-मेडिकल इमरजेंसी के लिए कस्टमर केयर

हाईवे पर यात्रा के दौरान मेडिकल इमरजेंसी उतपन्न होेन पर आपके साथ यात्रा कर रहे लोग बीमार हो सकते हैं। ऐसे में रसीद के आगे या दूसरी तरफ दिए मेडिकल इमरजेंसी के लिए रसीद पर फोन नंबर दिया जाता है। दावा है कि, कॉल करने के 10 मिनट के भीतर ही एम्बुलेंस आ जाती है। राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण की एंबुलेंस उपलब्ध कराने वाली हेल्पलाइन का नंबर 8577051000 और 7237999911 है। हारानी की बात ये है कि, सरकार द्वारा ये सुविधा मुफ्त में लोगों को दे रखी है। बता दें कि, किसी भी आपात स्थिति में ये सुविधा बिल्कुल मुफ्त रहती है। एंबुलेंस तुरंत मौके पर पहुंचती है। थोड़ी बहुत चिकित्सकीय आवश्यक्ता में डॉक्टर्स द्वारा तुरंत उपचार किया जाता है। अन्यथा एंबुलेंस तुरंत आपको निकटवर्ती अस्पताल या नर्सिंग होम तक पहुंचा देती है। इसके अलावा, नेशनल हाईवे पर यात्रा के दौरान किसी भी इमरजेंसी में आप 1033 और 108 हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क भी कर सकते हैं।

पढ़ें ये खास खबर- अमीरों की ये तीन आदतें आपको भी बना देंगी धनवान, कम समय में इस तरह जमा कर सकते हैं ज्यादा रुपये


-पेट्रोल नंबर पर कॉल करें

अगर सफर के दौरान अचानक किसी कारण वश आपकी गाड़ी का ईंधन खत्म हो गया तो चिंता करने की कोई बात नहीं है, पीछे टोल बूथ पर दी राशि अब आपके काम आएगी। आप सड़क के किनारे वाहन खड़ा कर दें। रसीद पर दिए गए हेल्प लाइन नंबर या फिर पेट्रोल नंबर पर फोन करें। आपको जल्द से जल्द 5 से 10 लीटर पेट्रोल या डीजल की आपूर्ति की जाएगी। हालांकि, इस ईंधन की राशि का भुगतान आपको ही करना होगा। पेट्रोल हेल्पलाइन के लिए इन नंबरों पर कॉल कर सकते हैं, 8577051000 / 7237999944...। साथ ही, वाहन खाब होने पर भी आप इन नंबरों का इस्तेमाल कर सकते हैं।

पढ़ें ये खास खबर- SBI Alert : 30 नवंबर से पहले जमा कर दें ये फॉर्म, वरना खाते में अटक जाएगा आपका पैसा


-क्रेन नंबर

यात्रा के दौरान आपके वाहन में किसी तरह की खराबी आने पर हाईवे की एक हेल्पलाइन आपकी मदद के लिए तत्काल पहुंचेगी। वो अपने वाहन पर एक मैकेनिक के साथ आपके पास पहुंचेगी। मैकेनिक को लेकर आने की सुविधा तो मुफ्त है, लेकिन आपकी कार या वाहन में जो खराबी है, उसका चार्ज जरूर मैकेनिक को देना होगा। अगर समस्या का वहां समाधान नहीं हो सकता तो वाहन को क्रेन उठाकर निकटवर्ती सर्विस सेंटर तक पहुंचाया जाएगा। हाइवे अथारिटी के इस हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके अपनी समस्या का समाधान करा सकते हैं, 8577051000 / 7237999955...। इसके अलावा एक्सिडेंट की स्थिति में भी क्रैन का इस्तेमाल किया जाता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

भारत-पाक सीमा पर BSF ने पकड़ा बांग्लादेशी नागरिक, पाकिस्तान जाने की कर रहा था कोशिशSSC Scam case: पार्थ चटर्जी, अर्पिता मुखर्जी 14 दिन की न्यायिक हिरासत पर भेजे गए, 31 अगस्त को अगली पेशीMaharashtra News: महाराष्ट्र के रायगढ़ में संदिग्ध नाव मिलने से हडकंप, AK 47 सहित कई हथियार हुए बरामदRohingya Row: अनुराग ठाकुर का AAP पर आरोप, राष्ट्र सुरक्षा से समझौता कर रही दिल्ली सरकारपश्चिम बंगाल में STF को मिली बड़ी सफलता, अल-कायदा से जुड़े दो आतंकवादियों को किया गिरफ्तारBJP में शामिल होंगे JDU के पूर्व अध्यक्ष RCP सिंह, नीतीश के बारे में कहा- 7 जन्म में नहीं बन सकेंगे प्रधानमंत्रीराजू श्रीवास्तव की हालत नाजुक, ब्रेन हुआ डेड, दिल नहीं कर रहा काम, शुरू कराया गया महामृत्युंजय जापJharkhand News: कोर्ट का फरमान- एक साथ 15 दोषियों को सुनाई फांसी की सजा, जानिए क्या किया था इन्होंने अपराध
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.