इंग्लैंड दौरे के लिए नए खिलाड़ियों के चयन पर भड़के कपिल देव, कहा-टीम में मौजूद खिलाड़ियों के लिए यह अपमानजनक

कपिल देव का कहना है कि जब टीम में पहले से मयंक अग्रवाल और केएल राहुल हैं और रिजर्व खिलाड़ी के रूप में अभिमन्यु ईश्वरन भी मौजूद हैं तो किसी अन्य सलामी बल्लेबाज को नहीं चुनना चाहिए।

By: Mahendra Yadav

Published: 04 Jul 2021, 11:03 AM IST

टीम इंडिया इस समय इंग्लैंड दौरे पर है और जल्द ही उसे इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है। वहीं न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के दौरान टीम के बल्लेबाज शुभमन गिल चोटिल हो गए थे। ऐसे में उनका इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच सीरीज में खेलना मुश्किल लग रहा है। अब शुभमन गिल की जगह भारतीय टीम में किसी और सलामी बल्लेबाज को शामिल करने की बात चल रही है। इसकोे लेकर टीम इंडिया के पूर्व कप्तान कपिल देव टीम मैनेजमेंट पर भड़क गए। कपिल देव का मानना है कि जब पहले से ही 20 सदस्यीय भारतीय टीम इंग्लैंड में मौजूद है तो टीम मैनेजमेंट को नए खिलाड़ी को टीम में शामिल करने के बारे में नहीं सोचना चाहिए।

पृथ्वी शॉ को शामिल करने की बात
कपिल देव का बयान ऐसे समय में आया है जब कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में टीम मैनेंजमेंट चोटिल शुभमन गिल की जगह श्रीलंका दौरे पर गए ओपनर पृथ्वी शॉ को शामिल कर सकती है। वहीं कपिल देव का कहना है कि जब टीम में पहले से मयंक अग्रवाल और केएल राहुल हैं और रिजर्व खिलाड़ी के रूप में अभिमन्यु ईश्वरन भी मौजूद हैं तो किसी अन्य सलामी बल्लेबाज को नहीं चुनना चाहिए। कपिल देव का मानना है कि बाहर से किसी सलामी बल्लेबाज को चुनने से टीम मैनेजमेंट की छवि अच्छी नहीं बनेगी। साथ ही ये उन खिलाड़ियों के लिए एक तरह से अपमानजनक होगा, जो पहले से ही टीम में मौजूद हैं।

यह भी पढ़ें— जानिए कौन हैं अभिमन्यु ईश्वरन जो टीम इंडिया में ले सकते हैं शुभमन गिल की जगह!

ravi_shastri_and_kohli.png

टीम में मौजूद खिलाड़ियों के लिए अपमानजनक
कपिल देव ने एक न्यूज चैनल के शो में कहा कि जिन्होंने टीम चुनी है, उन चयनकर्ताओं का भी कुछ सम्मान होना चाहिए। उन्होंने कहा कि उन्हें यकीन है कि यह शास्त्री और कोहली के परामर्श के बिना नहीं होता। उनका कहना है कि जब टीम के पास केएल राहुल और मयंक अग्रवाल जैसे दो बड़े ओपनिंग बल्लेबाज हैं तो तीसरे विकल्प की क्या जरूरत है। उनका कहना है कि इंग्लैंड दौरे के लिए जो टीम चुनी गई है, उसमें पहले से ही ओपनर हैं। साथ ही कपिल देव ने कहा कि अगर किसी अन्य सलामी बल्लेबाज को चुना जाता है कि यह उन खिलाड़ियों के लिए अपमानजनक है, जो पहले से ही टीम में हैं।

यह भी पढ़ें— केन विलियमसन ने की टीम इंडिया की तारीफ, बताया 'महान टीम'

चयनकर्ताओं को दरकिनार करना ठीक नहीं
कपिल देव का मानना है कि टीम के कप्तान और टीम मैनेजमेंट को टीम चयन में में अपनी बात रखनी चाहिए,लेकिन चयनकर्ताओं को दरकिनार नहीं किया जाना चाहिए। उनका कहना है कि अगर ऐसा होता है तो फिर सेलेक्टर्स की कोई जरूरत ही नहीं। कपिल देव का कहना है कि उन्हें यह जानकर थोड़ा अजीब लग रहा है कि ऐसा कुछ हुआ है। उनका कहना है कि अगर वाकई ऐसा हुआ है, तो यह चयनकर्ताओं और उनकी भूमिका को कम करके दिखाता है। साथ ही उन्होंने कहा कि इस पर विराट कोहली और शास्त्री ही कुछ कह सकते हैं, लेकिन ये गलत तरीका होगा।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned