झारखंड : झोलाछाप डॉक्टर ने नवजात बच्चे का काटा गुप्तांग, वजह जानकर हैरान रह जाएंगे आप

दरअसल झारखंड के चतरा जिले में एक फर्जी डॉक्टर ने जेंडर जांच को सही साबित करने के लिए एक नवजात बच्चे का गुप्तांग ही काट दिया।

By: Anil Kumar

Published: 25 Apr 2018, 09:30 PM IST

नई दिल्ली । झारखंड से चौंकाने वाली खबर सामने आई है। एक झोलाछाप फर्जी डॉक्टर के कारण एक बच्चे की दर्दनाक मौत हो गई। दरअसल झारखंड के चतरा जिले में एक फर्जी डॉक्टर ने जेंडर जांच को सही साबित करने के लिए एक नवजात बच्चे का गुप्तांग ही काट दिया। इससे बच्चे की मौत हो गई। हालांकि पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने बताया कि आठ माह की गर्भवती गुड्डी देवी को चतरा जिले के जय प्रकाश नगर में एक निजी नर्सिग होम में मंगलवार को भर्ती कराया गया था। फर्जी डॉक्टर ने स्वयं को एक बेहतर डॉक्टर बताने के लिए उस महिला का अल्ट्रासाउंड किया और उसके पिता को कहा कि महिला के गर्भ में लड़की है।

महिला ने एक लड़के को दिया था जन्म

मंगलवार को महिला उसी नर्सिंग होम में भर्ती हुई थी। जहां उन्होंने एक लड़के को जन्म दिया। डॉक्टर ने खुद को सही साबित करने के लिए उस नवजात बच्चे का गुप्तांग ही काट दिया और परिवार वालों से कहा कि बच्ची पैदा हुई है। हालांकि कुछ ही देर में गुप्तांग काटने के कारण बच्चे की मौत हो गई। आपको बता दें कि जब परिवार जनों को इस बारे में पता चला तो महिला की मां और पूरे परिवार ने क्लीनिक में हंगामा कर दिया। हालांकि डॉक्टर ने कुछ देर तक मामले को दबाने की कोशिश की लेकिन जब परिवार वाले नहीं माने तो वह झोलाछाप डॉक्टर मौके से फरार हो गया।

अस्पताल के लाइसेंस निलंबन व पीडि़तों के मुआवजे की उठने ली है मांग

पुलिस ने मामला किया दर्ज

इस घटना की जानकारी स्थानीय पुलिस को तुरंत दी गई। पुलिस ने बुधवार को घटनास्थल पर पहुंचकर नवजात बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। साथ ही फर्जी डॉक्टर के खिलाफ मामला दर्ज कर पकड़ने के लिए तलाशी अभियान शुरू कर दिया है। पुलिस ने बताया है कि नर्सिंग होम अवैध रुप से चलाया जा रहा था। बता दें कि राज्य सरकार अवैध रूप से चला रहे नर्सिंग होम को बंद करने या फिर लाइसेंस लेने का आदेश पहले ही दे चुकी है।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned