9 महीने के बच्चे के सामने फांसी के फंदे पर झूल गए पति-पत्नी, फ्लैट के अंदर रोता रहा मासूम

Highlights:

-गाजियाबाद -इंदिरापुरम के ज्ञान खंड 1 में पति पत्नी ने खुदकुशी की

-पत्नी ने ड्राइंग रूम में और पति ने बेडरूम में लगाई फांसी

-ग्रेटर नोएडा में रहने वाली बहन को SMS से भेजी जानकारी

By: Rahul Chauhan

Updated: 26 Jun 2020, 01:17 PM IST

गाज़ियाबाद । इंद्रापुरम इलाके दंपत्ति ने घर में ही फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। इनका 9 महीने का बच्चा घर में रोता हुआ मिला। पति ने फांसी लगाने से पहले नोएडा में रह रही अपनी बहन को एसएमएस से इस घटना की जानकारी दी थी। परिवार के लोग इंदिरापुरम पहुंचे तो उनके पैरों तले से जमीन खिसक गई। दरअसल, थाना इंदिरापुरम इलाके की ज्ञान खंड 1 कॉलोनी में शुक्रवार सुबह उस समय अफरा तफरी जैसा माहौल हो गया जब स्थानीय लोगों ने एक सोसायटी के फ्लैट में पति-पत्नी की लाशों को फंदे पर लटके हुए देखा। इनका 9 महीने का बच्चा फ्लैट में ही रो रहा था।

यह भी पढ़ें: हरियाणा और यूपी के वाहन चोर गैंग का पर्दाफाश, चार गिरफ्तार, चोरी की 21 बाइक बरामद

फांसी लगाने से पहले युवक ने अपनी बहन को मैसेज किया था। जिसमें लिखा था कि सुबह घर पर आ जाना बाबू अकेला मिलेगा। इस एसएमएस को पढ़ने के बाद उसकी बहन सुबह घर पहुंची तो उसके भैया और भाभी के शव को देखकर उसके होश उड़ गए। 9 महीने का बच्चा (बाबू) अकेला बेड पर पड़ा रो रहा था। इसकी सूचना तुरन्त स्थानीय थाना पुलिस को दी गई। मिली जानकारी के अनुसार करीब 30 वर्षीय निखिल और 29 वर्षीय उनकी पत्नी पल्लवी अपने 9 महीने के बेटे के साथ ज्ञान खंड 1 की एक सोसाइटी में किराए पर रहते थे। यह दम्पति मूल रूप से पटना बिहार के रहने वाले था। दो साल पहले ही इनकी शादी हुई थी। निखिल एक निजी कंपनी में सेल्स मैनेजर के पद पर नौकरी करता था।

यह भी पढ़ें: BJP के फायरब्रांड विधायक Sangeet Som के भाई पर लगे गंभीर आरोप, पुलिस ने कुर्क की संपत्ति

निखिल की बहन भी ग्रेटर नोएडा में रहती है। उसने बताया कि, फोन पर एक एसएमएस प्राप्त हुआ था जिसमें बताया गया था कि सुबह घर पहुंच जाना बाबू अकेला रहेगा। वह सुबह घर आई तो निखिल का शव बेडरूम में जबकि पत्नी पल्लवी का शव ड्राइंग रूम में था। 9 महीने का बेटा बेड पर अकेला मिला। आनन-फानन में इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को दी गई। सूचना के आधार पर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। उनके पास से कोई सुसाइड नोट भी बरामद नहीं हुआ है। बहरहाल दोनों के द्वारा आत्महत्या किस लिए की गई अभी यह साफ नहीं हो पाया है। फिलहाल इस पूरे मामले की गहनता से जांच में जुटी हुई है।

Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned