ईरान में Coronavirus का बढ़ता प्रकोप, उपराष्ट्रपति मासूमेह एब्तेकार वायरस से संक्रमित

  • ईरान में Coronavirus से अब तक 26 की मौत हो गई, जबकि 245 लोग संक्रमित हैं
  • ईरान के उप स्वास्थ्य मंत्री इराज हारिची ( Iraj Harichi ) इस वायरस से संक्रमित

By: Anil Kumar

Updated: 29 Feb 2020, 08:56 AM IST

तेहरान। जानलेवा कोरोना वायरस ( Coronavirus ) की वजह से पूरी दुनिया में खौफ और भय का वातावरण बन गया है। इस वायरस की जद में अब तक करीब 30 देश आ चुके हैं। चीन के वुहान शहर ( Wuhan City ) से फैलना शुरू हुआ इस वायरस का प्रकोप अब ईरान में बढ़ता जा रहा है।

दरअसल, पहले ईरान के उप स्वास्थ्य मंत्री इराज हारिची ( Iran's Deputy Health Minister Iraj Harichi ) इस वायरस से संक्रमित हो गए, वहीं अब उप राष्ट्रपति ( Iranian Vice President ) मासूमेह एब्तेकार (Masoumeh Ebtekar) भी इस घातक वायरस से संक्रमित हो गई हैं।

जापान में Coronavirus की वजह से देशभर के स्कूल रहेंगे बंद, पीएम शिंजो आबे ने की घोषणा

ईरान में कोरोना वायरस ( nove coronavirus us ) से संक्रमितों की संख्या तेजी के साथ बढ़ रहा है। अब तक पूरे देश में 245 लोग इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं, जबकि मरने वालों की संख्या बढ़कर 26 हो गई है। ईरानी स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि नई जांच रिपोर्ट्स सामने आने के बाद वायरस से संक्रमितों की संख्या में बढ़ोतरी हो सकती है।

चीन में लगातार बढ़ रहा है मरने वालों का आंकड़ा

आपको बता दें चीन के वुहान से शुरू हुआ कोरोना वायरस का कहर अब कई देशों तक पैर पसार चुका है। इसके कारण पूरी दुनिया में हाहाकार मचा हुआ है। इस वायरस की वजह से चीन में अब तक 2800 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 78 हजार से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं।

इसके अलावा पूरी दुनिया में 81 हजार से अधिक लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हो चुकी है। कोरोना से चीन के 31 प्रांत प्रभावित हैं, इसमें सबसे ज्यादा हुबेई प्रांत का वुहान शहर संक्रमण से जूझ रहा है। आलम ये है कि वहां स्थिति लगातार नाजुक बनी हुई है।

चीन ने ईरान को दिए 2.5 लाख मास्क

ईरान में लगातार कोरोना वायरस ( Coronvirus ) से संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है। इसे रोकने के लिए चीन ने मदद का हाथ बढ़ाया है। कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच चीन ने ईरान को अब तक 2.5 लाख मास्क भेजे हैं। चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता चाओ लिच्यान ने कहा कि महामारी के संकट के समय दूसरों की मदद करने का मतलब खुद की मदद करना है। कठिन समय पर साथ खड़े होकर एक दूसरे को सहायता देने से विश्व यथाशीघ्र ही महामारी को पराजित कर सकेगा।

उन्होंने कहा कि कोविड-19 ( COVID-19 ) के कहर के बाद विश्व के 170 से अधिक देशों के नेताओं और 40 से अधिक अंतर्राष्ट्रीय संगठनों के जिम्मेदार लोगों ने खास तौर पर संदेश भेजकर चीन का समर्थन किया। अनेक देशों के लोगों ने चंदा भी दिया और विविध तरीकों से चीन को प्रोत्साहित किया।

पाकिस्तान में टिड्डियों का आतंक, मदद के लिए चीन आया आगे, बीजिंग एक लाख बत्तख भेजेगा इस्लामाबाद

चाओ लिच्यान ने कहा कि वायरस की कोई राष्ट्रीय सीमा नहीं होती। इधर के दो दिनों में जापान, दक्षिण कोरिया, इटली और ईरान आदि देशों में कोविड-19 का फैलाव हो गया है। अफ्रीका में भी पुष्ट मरीजों का पता चला है। डब्ल्यूएचओ ने अनेक बार चिकित्सक व स्वास्थ्य सिस्टम होने वाले देशों के प्रति चिंता प्रकट की।

उन्होंने कहा कि चीन के पास महामारी का मुकाबला करने के प्रचुर अनुभव हैं। चीन खुद के रोकथाम कार्य को अच्छी तरह अंजाम देने के साथ जापान ( Japan ) और दक्षिण कोरिया ( South Korea ) आदि देशों से घनिष्ठ संपर्क व सहयोग करते हुए सूचनाओं व अनुभवों को साझा करना चाहता है। साथ ही कमजोर स्वास्थ्य सिस्टम वाले देशों को हरसंभव मदद भी देगा।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.

coronavirus Coronavirus in China Coronavirus Outbreak
Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned