Lok Sabha Election 2019- सीट बंटवारे को लेकर उलझन में हैं राजनीतिक दल

Lok Sabha Election 2019 - चुनाव लोकसभा का हो या विधानसभा का टिकटों की मारामारी तो रहती ही है। प्रमुख राजनीतिक दलों में अधिक तो छोटे दलों में थोड़ी कम। साल-दर-साल ये मारामारी राजनीतिक दलों के लिए परेशानी का सबब बनती जा रही है।

By: santosh

Updated: 10 Apr 2019, 09:42 AM IST

अनंत मिश्रा
जयपुर। Lok Sabha Election 2019 - चुनाव लोकसभा का हो या विधानसभा का टिकटों की मारामारी तो रहती ही है। प्रमुख राजनीतिक दलों में अधिक तो छोटे दलों में थोड़ी कम। साल-दर-साल ये मारामारी राजनीतिक दलों के लिए परेशानी का सबब बनती जा रही है।

 

हालत 'एक अनार- सौ बीमार' वाली होती जा रही है। टिकट जितने सीमित हैं, दावेदार उतने ही असीमित। नेता भी करें तो क्या? सबको राजी कर पाना आसान नहीं। सात चरणों में होने जा रहे लोकसभा चुनाव के लिए नामांकन पत्र भरने और वापस लेने का सिलसिला चल रहा है, लेकिन राजनीतिक दल हैं कि अब भी टिकट बंटवारे की प्रक्रिया के दौर से गुजर रहे हैं।

 

Congress पहली सूची के बाद अब तक 30 और BJP 20 दिनों में 19 सूचियां जारी कर चुकी है। इससे पहले हुए लोकसभा चुनाव में इन दलों ने शायद ही कभी इतनी सूचियां जारी की हों। खास बात ये कि दोनों प्रमुख दल चुनाव से 3-4 महीने पहले तक उम्मीदवारों के चयन की प्रक्रिया पूरी करने का दावा कर रहे थे। इन दोनों दलों की आगे कितनी और सूचियां आएंगी, कोई नहीं जानता।


2014 में सिर्फ 7-8 सूचियां ही थीं
पिछले आम चुनाव में भाजपा व कांग्रेस ने 7-8 सूचियां ही जारी की थीं। तब भाजपा और कांग्रेस ने अपनी पहली चार सूचियों में 300 से प्रत्याशियों की घोषणा कर दी थी। कांग्रेस की इस बार 5 सूचियां तो ऐसी हैं जिनमें 1-1 जबकि 4 सूचियों में 2-2 नाम शुमार थे। पांचवीं सूची सबसे बड़ी थी।

 

भाजपा की तीन सूचियों में 1-1 नाम
भाजपा की अब तक 19 सूचियों में 3 सूचियां ऐसी थी जिनमें सिर्फ एक-एक ही नाम थे। जबकि तीन सूचियों में 3-3 नाम शामिल थे। पार्टी की पहली सूची सबसे बड़ी थी, जिसमें 184 प्रत्याशियों के नाम शामिल थे। इसमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के नाम शामिल थे।

 

दोनों प्रमुख दलों में बड़ी तादाद में सूचियां
बड़ी तादाद में सूचियां आने का प्रमुख कारण दावेदारों की भरमार तो है ही, दूसरे दलों से नेताओं को लाकर चुनाव लड़ाने की सोच भी बड़ा कारण है। उदाहरण के तौर पर फिल्म अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा और जयाप्रदा को लिया जा सकता है।

 

Read Latest Rajasthan News in Hindi on Patrika. Also know about Rajasthan Lok Sabha Election Results 2019 News. Jaipur News और साथ ही दूसरे शहरों से जुडी ख़बरें पढ़ने के लिए बने रहिये हमारे साथ।

BJP Congress

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned