वक्त पर ऑक्सीजन नहीं मिलने पर छह मरीजों की मौत के बाद मचा हड़कंप, जानिए हकीकत

Janjgir Champa Coronavirus Update: ऑक्सीजन के कारण 6 लोगों की मौत के मामले में जिले में हड़कंप मच गया। मुख्यमंत्री कार्यालय से सवाल किए जाने के बाद कलेक्टर समेत सभी अफसरों के हाथ-पैर फूल गए।

By: Ashish Gupta

Published: 16 Apr 2021, 09:43 PM IST

जांजगीर-चांपा. छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा जिले में कोरोना की मार लगातार बढ़ती जा रही है। बड़ी बात यह है कि जिले में ऑक्सीजनयुक्त बेड की कमी है। तीन सेंटर के सिर्फ 100 बेड ही ऑक्सीजनयुक्त हैं।

नतीजतन मरीजों की असमय मौत हो रही है। गुरुवार की स्थिति में जिले में 4521 एक्टिव मरीज थे। 303 गंभीर मरीजों का सरकारी अस्पतालों में इलाज किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: यहां कोरोना मरीजों का राम भरोसे चल रहा इलाज, न समय पर मिल रही रिपोर्ट और न दवा

जिला अस्पताल सहित 3 सेंटरों के 100 बेड में ही ऑक्सीजन की सुविधा है, जिसमें 80 बेड ईसीटीसी कोविड केयर सेंटर में, 15 बेड आकांक्षा परिसर में व 5 बेड महुदा आईटीआई में हैं। जबकि जिले में 13 कोविड केयर सेंटर बनाए गए हैं।

कोविड केयर सेंटरों में 1335 मरीजों को भर्ती कर इलाज की सुविधा दी जा सकती है, लेकिन ऑक्सीजन सुविधा की गारंटी नहीं है। शेष मरीजों को या तो बाहर रेफर करना पड़ रहा है या फिर ऑक्सीजन वाले बेड का इंतजार करना पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ में कोरोना से बिगड़े हालात: वक्त पर ऑक्सीजन नहीं मिलने से 6 मरीजों ने तोड़ा दम

निजी अस्पतालों में इलाज की सुविधा नहीं
जिले के एक भी निजी अस्पताल में कोरोना इलाज की सुविधा नहीं दी जा रही है। इसका खामियाजा मरीजों को भुगतना पड़ रहा है। मरीज होम आइसोलेशन में रहकर जैसे-तैसे भगवान भरोसे इलाज करा रहे हैं।

पत्रिका की खबर से मचा हड़कंप
ऑक्सीजन के कारण 6 लोगों की मौत के मामले में शुक्रवार को जिले में हड़कंप मच गया। मुख्यमंत्री कार्यालय से सवाल किए जाने के बाद कलेक्टर समेत सभी अफसरों के हाथ-पैर फूल गए। वे दिनभर ऑक्सीजन की उपलब्धता और कमी का असेसमेंट करते रहे।

Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned