शपथ ग्रहण समारोह के बहाने दिखी विपक्षी एकता, अखिलेश और मायावती में हुई सीक्रेट टॉक

सोनिया गाँधी ने खुद मायावती का हाथ उठा कर जीत का सन्देश दिया।

By: Dikshant Sharma

Published: 23 May 2018, 06:16 PM IST

लखनऊ. एचडी कुमारस्वामी ने दूसरी बार कर्नाटक के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली । राज्यपाल वजुभाई वाला ने कुमारस्वामी को CM पद की शपथ दिलाई। ख़ास बात ये रही कि इस शपथ ग्रहण के बहाने थर्ड फ्रंट की एक तस्वीर भी मंच से दिखी। धुर विरोधी माने जाने वाली सोनिया गाँधी और बसपा सुप्रीमो मायावती भी अगल बगल खड़े दिखे । यही नहीं शपथ ग्रहण के बाद जब सभी अरविन्द केजरीवाल, चंद्रबाबू नायडू, ममता बनर्जी , शरद यादव, अजीत सिंह , तेजस्वी, सीता राम येचुरी जैसे बड़े विपक्षी नेता एक साथ हुए तो सोनिया गाँधी ने खुद मायावती का हाथ उठा कर जीत का सन्देश दिया ।

 

अखिलेश और मायावती में गुपचुप बैठक
बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बेंगलुरु में कुमारस्वामी के बहाने अपनी चुनावी पारी पर भी चर्चा की । संगरिला होटल में दोनों के बीच मुलाकात की ख़बरें भी मीडिया तक पहुंची। मायावती और अखिलेश के बीच यह मुलाकात फूलपुर और गोरखपुर में हुए उपचुनावों के बाद दूसरी मुलाकात है । जानकार बताते हैं कि इस बैठक में मायावती और अखिलेश ने आगामी कैराना उपचुनाव के साथ ही लोकसभा चुनावों के मद्देनजर भी बातचीत की ।

अखिलेश और मायावती साझा करेंगे मंच
उत्तर प्रदेश के उपचुनावों और राज्यसभा चुनावों में सिर्फ दोनों दल साथ थे। लेकिन दोनों ही नेताओं एक साथ कोई भी मंच साझा नहीं किया था । कर्नाटक चुनाव के नतीजे आने के बाद अब गठबंधन को और मजबूती से दिखाने के लिए एक साथ मंच साझा गया । ऐसा पहली बार हुआ कि अखिलेश यादव और मायावती एक ही मंच पर आए हों ।


बता दें कि मायावती, अखिलेश और केजरीवाल के अलावा इस शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए राहुल गांधी , सोनिया गाधी, और सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी को आमंत्रित किया गया है ।

Arvind Kejriwal
Dikshant Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned