टेंट व्यापारी की पत्नी ने 'नेता' से मांगे 20 रुपये तो कर दी 'ठांय-ठांय', जानें क्या है पूरा मामला

टेंट व्यापारी की पत्नी ने 'नेता' से मांगे 20 रुपये तो कर दी 'ठांय-ठांय', जानें क्या है पूरा मामला

Rahul Chauhan | Publish: Nov, 10 2018 04:29:54 PM (IST) Meerut, Uttar Pradesh, India

अभी भाजपा पार्षद और दरोगा के बीच हुई मारपीट का मामला ठंड़ा नहीं पड़ा कि एक और मामला सामने आ गया है।

मेरठ। मेरठ में अभी भाजपा पार्षद और दरोगा के बीच हुई मारपीट का मामला ठंड़ा नहीं पड़ा कि एक और मामला सामने आ गया है। दरअसल, दबंगई दिखाते हुए एक व्यापारी नेता ने टेंट व्यापारी को गोली मार दी। मामला भी मात्र बीस रूपये को लेकर हुआ। इतना ही नहीं, व्यापारी नेता ने टेंट व्यापारी को धमकी भी दे दी कि अगर उसने मामले की रिपोर्ट दर्ज कराने की कोशिश की तो जान से मार दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें : बच्चे को ESI में कराया था भर्ती, फिर परिजनों ने डॉक्टर पर लगाए ये गंभीर आरोप

दरअसल, घटना दीपावली के रात की है। सदर थाना क्षेत्र में एक व्यापारी नेता ने टैंट कारोबारी को गोली मार दी। आरोप है कि पुलिस ने आरोपी से सेटिंग करते हुए उसे थाने से छोड़ दिया। जिसके बाद गुस्साई भीड़ आरोपी को थाने में ही पीटने पर आमादा हो गई। उधर, गोली लगने से घायल कारोबारी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस मामले में टेंट व्यापारी एसोसिएशन और भाजपा समर्थित व्यापारी आमने-सामने आ गए हैं।

यह भी पढ़ें : इस दिन मौसम में होने वाला है बड़ा बदलाव, प्रदूषण हो जाएगा छूमंतर!

सदर बाजार में टैंट का कारोबार करने वाले संदीप के अनुसार बाजार के प्रधान सुनील दुआ ने उनसे एक मेज किराए पर ली थी। बुधवार रात को संदीप की पत्नी सुनील से मेज के किराए के बीस रुपये मांगने पहुंची। आरोप है कि सुनील ने उसकी पत्नी को बुरा-भला कहा। उन्होंने जब रोकने की कोशिश की तो उनको भी सुनील ने भला-बुरा कहना शुरू कर दिया। इस बात का विरोध करने पर आरोपी ने अपनी लाइसेंसी पिस्टल से ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी।

यह भी पढ़ें : जब चाय की दुकान में घुसा ट्र्क तो दिखा ऐसा नजारा कि सहम गए लोग

जिसके बाद बाजार में हड़कंप मच गया। वहीं, हाथ में गोली लगने से संदीप घायल हो गए। घटना के बाद संदीप को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। आरोप है कि आरोपी के दबाव में पुलिस ने जबरन दोनों पक्षों का समझौता कराते हुए सुनील को थाने से छोड़ दिया। जिसके बाद गुस्साए लोग उसे थाने में ही पीटने पर आमादा हो गए। पुलिस ने जैसे-तैसे बीच-बचाव कर दोनों पक्षों को अलग किया। उधर, आरोपी को छोड़े जाने को लेकर पीड़ित पक्ष में रोष है। मेरठ के टेंट व्यापारी लामबंद हो गए हैं उनमें रोष है। वहीं भाजपा नेता दोनों पक्षों में समझौता कराने का प्रयास कर रहे हैं।

Ad Block is Banned