अगस्ता वेस्टलैंड केसः सीबीआई अदालत ने सुशेन मोहन गुप्ता को 9 मई तक भेेजा न्यायिक हिरासत में

  • अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर सौदा घोटाले को लेकर सुनवाई।
  • सीबीआई अदालत ने बिचौलिये सुशेन मोहन गुप्ता को भेजा न्यायिक हिरासत में।
  • राजीव सक्सेना ने किया था मामले में गुप्ता की भूमिका का खुलासा।

नई दिल्ली। अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर डील घोटाले को लेकर शुक्रवार को सीबीआई अदालत में सुनवाई हुई। इस दौरान अदालत ने मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामले में बिचौलिए सुशेन मोहन गुप्ता को आगामी 9 मई तक न्यायिक हिरासत में भेजने का आदेश दिया है।

कांग्रेस ने की घोषणा, लोकसभा चुनाव जीते तो लागू करेंगे राष्ट्रीय सुरक्षा का 5 प्वाइंट चार्ट

शुक्रवार को विशेष सीबीआई जज अरविंद कुमार की अदालत में मुकदमे की सुनवाई हुई। तिहाड़ जेल प्रशासन द्वारा अरविंद कुमार के सामने सुशेन मोहन गुप्ता को पेश किया गया। सुशेन मोहन ने इससे पहले पटियाला हाउस अदालत में जमानत के लिए याचिका दायर की थी।

पटियाला हाउस कोर्ट ने इस जमानत याचिका पर प्रवर्तन निदेशालय से जवाब मांगा था। इस जमानत याचिका का विरोध जांच एजेंसी द्वारा किया गया था।

इसके अलावा विशेष अदालत ने प्रवर्तन निदेशालय के आवेदन पर अपना आदेश सुरक्षित रख लिया है। इस आवेदन में प्रवर्तन निदेशालय ने मामले से जुड़े सऊदी अरब केे निवेशक/व्यवसायी के खिलाफ खुला गैर-जमानती वारंट जारी करने की मांग की थी।

वो 10 राजनेता जो आजतक कोई भी लोकसभा चुनाव नहीं हारे

गौरतलब है कि करीब 3 हजार 600 करोड़ रुपये के अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर डील केेस में ईडी ने सुशेन मोहन गुप्ता नामक बिचौलिये को दिल्ली से गिरफ्तार किया था। जबकि इस केस को लेकर वकील गौतम खेतान और ब्रिटिश मूल के बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल भी गिरफ्त में हैं।

प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों के मुताबिक हाल ही में इस मामले में संलिप्तता को लेकर राजीव सक्सेना का पता चला था। उसे संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) से प्रत्यर्पित कर लाया गया। पूछताछ में सक्सेना ने इस मामले में सुशेन मोहन गुप्ता की भूमिका का भी खुलासा किया और खुद सरकारी गवाह बन गया। राजीव सक्सेना ने जांच एजेंसी को यह भी जानकारी दी थी कि अगस्ता वेस्टलैंड डील को लेकर रिश्वत की राशि इंटरस्टेलर टेक्नोलॉजीज नाम की कंपनी को सौंपी गई थी।

India से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

Show More
अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned