scriptIndependence Day 2021: PM Modi may join Koo App on August 15 amid Twitter issue: Sources | Independence Day 2021 Exclusive: आज पीएम मोदी ज्वाइन कर सकते हैं Koo App | Patrika News

Independence Day 2021 Exclusive: आज पीएम मोदी ज्वाइन कर सकते हैं Koo App

Independence Day 2021: माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ट्विटर से भारत सरकार की तनातनी के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार 15 अगस्त 2021 को देसी ऐप Koo App ज्वाइन कर सकते हैं।

Updated: August 15, 2021 02:46:24 am

नई दिल्ली। Independence Day 2021: पिछले कुछ वक्त से ट्विटर और केंद्र सरकार के बीच चल रही तनातनी के बीच देसी माइक्रोब्लॉगिंग ऐप Koo App पर यूजर्स की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है। ऐसे में सूत्रों के मुताबिक बड़ी खबर आ रही है कि स्वतंत्रता दिवस यानी रविवार 15 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी Koo App ज्वाइन कर सकते हैं।
Independence Day 2021: PM Modi may join Koo App on August 15 amid Twitter issue: Sources
Independence Day 2021: PM Modi may join Koo App on August 15 amid Twitter issue: Sources
जरूर पढ़ेंः फैंस की एमएस धोनी से अपील- ट्विटर छोड़ Koo जॉइन कर लिजिए कप्तान

दरअसल, सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर पारदर्शिता को लेकर केंद्र सरकार द्वारा लाए गए नए नियमों को पूरी तरह से मानने में आनाकानी के बीच ट्विटर से तकरार बढ़ती गई। इस बीच कई ऐसे मामले आए जिनमें ट्विटर द्वारा वेरीफाइड केंद्रीय मंत्रियों-विपक्षी नेताओं व अन्य हस्तियों के ब्लू टिक को अचानक हटा लिया गया और काफी हो-हल्ला होने पर उन्हें वापस जारी कर दिया गया। माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ने इसके पीछे कंपनी की नीतियों का हवाला दिया, लेकिन इससे ट्विटर के खिलाफ बना माहौल और ज्यादा गंभीर हो गया।
इसके बाद केंद्र सरकार के तमाम मंत्री, सांसद, विभाग, राज्य सरकारें और हस्तियां देसी प्लेटफॉर्म Koo App पर भी आ गए और कई मौकों पर तो सबसे पहले सूचना यहीं पर जारी की गई और ट्विटर पर बाद में। ट्विटर में मौजूद खामियों को दूर करते हुए देसी भाषाओं में गहरी पैठ बनाने के मकसद से पिछले साल लॉन्च किए गए Koo App ने इस दौरान ट्विटर का मजबूत विकल्प दिया और इसके यूजर्स की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है।
ये भी पढ़ेंः Koo से बाहर निकली चीनी कंपनी, पूर्व क्रिकेटर जवागल श्रीनाथ सहित इन दिग्गजों ने खरीदी हिस्सेदारी

Koo App के सह-संस्थापक मयंक बिदावतका ने बताया कि फिलहाल इस प्लेटफॉर्म पर 80 लाख से ज्यादा यूजर्स जुड़ चुके हैं और इनकी संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है। उम्मीद है कि इस महीने के अंत तक इस देसी मंच पर 1 करोड़ से ज्यादा यूजर्स हो जाएंगे। अंग्रेजी, हिंदी, कन्नड़, तमिल, तेलुगू, मराठी, बंगाली और असमी समेत आठ भाषाओं में आ चुके Koo App पर इस साल के अंत तक 25 से ज्यादा भाषाओं को जोड़ दिया जाएगा। मयंक के मुताबिक अब तक उनके मंच पर 2500 से ज्यादा वेरिफाइड यूजर्स हैं।
पत्रिका ने जब कू ऐप के सह-संस्थापक मयंक से पीएम मोदी के स्वतंत्रता दिवस पर इस प्लेटफॉर्म पर लॉगिन करने संबंधी सवाल पूछा तो उन्होंने कहा, 'क्यों नहीं आ सकते हैं, जरूर आना चाहिए, बिल्कुल आ सकते हैं। वह देश के प्रधानमंत्री हैं जरूर आएंगे। वह कल भी आ सकते हैं, कभी भी आ सकते हैं। हम उनका कू पर स्वागत करते हैं।'
ये भी देखें: विवादों के बीच भी Koo की पॉपुलैरिटी, बना टॉप फ्री ऐप

वहीं, विश्वस्त सूत्रों के मुताबिक ट्विटर को करारा जवाब देने के लिए और भारतीय ऐप का इस्तेमाल किए जाने को प्रोत्साहित करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को Koo App से जुड़ जाएंगे। सूत्रों ने बताया कि रविवार को प्रधानमंत्री इस पर लॉगिन करने के साथ ही अपना Koo App अकाउंट शुरू कर देंगे। इसके साथ ही लालकिले से प्रधानमंत्री के स्वतंत्रता दिवस भाषण को भी सीधे लाइव किया जाएगा।
पीएम मोदी से पहले उनके मंत्रिमंडल के कई चेहरे और विभाग Koo App से जुड़ चुके हैं। इनमें केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी, किरण रिजुजू, डॉ. सुब्रमण्यन स्वामी, अनुराग ठाकुर, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला, अर्जुन मुंडा, पीयूष गोयल, सुप्रिया सूले, रविशंकर प्रसाद समेत तमाम मुख्यमंत्री, प्रदेश सरकार, राजनेता, अभिनेता, पत्रकार, उद्योगपति, खिलाड़ी जुड़ चुके हैं।
ये भी पढ़ेंः डेटा लीक और चीनी निवेश विवाद के बीच Google Play Store पर टॉप फ्री ऐप बना Koo, यहां जानिए डिटेल

वहीं, अगर बात करें पीएम मोदी के ट्विटर अकाउंट की तो फिलहाल देश में उनके फॉलोअर्स की संख्या करीब 7.04 करोड़ है। वह देश में सबसे ज्यादा फॉलो किए जाने वाले व्यक्ति हैं। अगर पीएम मोदी ट्विटर के बाद Koo App पर जाते हैं, तो जाहिर सी बात है कि उनके फॉलोअर्स की संख्या के चलते इस देसी ऐप पर भी यूजर्स की संख्या तेजी से बढ़ेगी।
वैसे यह जानना जरूरी है कि 2014 लोकसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी ने जनता से जुड़ने के लिए ट्विटर का जबर्दस्त इस्तेमाल किया था। इसके बाद 2018 में पीएम मोदी और ट्विटर के सीईओ जैक डॉर्से की दिल्ली में मुलाकात भी हुई थी और पीएम ने ट्वीट किया था कि उन्होंने इस प्लेटफॉर्म के जरिये कई अच्छे दोस्त बनाए हैं।
newsletter

अमित कुमार बाजपेयी

पत्रकारिता में एक दशक से ज्यादा का अनुभव. ऑनलाइन और ऑफलाइन कारोबार, गैज़ेट वर्ल्ड, डिजिटल टेक्नोलॉजी, ऑटोमोबाइल, एजुकेशन पर पैनी नज़र रखते हैं. ग्रेटर नोएडा में हुई फार्मूला वन रेसिंग को लगातार दो साल कवर किया. एक्सपो मार्ट की शुरुआत से लेकर वहां होने वाली अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनियों-संगोष्ठियों की रिपोर्टिंग.

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कोरोना: शनिवार रात्री से शुरू हुआ 30 घंटे का जन अनुशासन कफ्र्यूशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेCM गहलोत ने लापरवाही करने वालों को चेताया, ओमिक्रॉन को हल्के में नहीं लें2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव

बड़ी खबरें

World Economic Forum 2022: दावोस एजेंडा के शिखर सम्मेलन में बोले पीएम मोदी, भारत बना दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा फार्मा प्रोड्यूसरयूएई के अबू धाबी एयरपोर्ट पर बड़ा हमला, दो भारतीयों समेत तीन की मौतवैक्सीनेशन को लेकर बड़ा ऐलान, 12 से 14 साल तक के बच्चों को मार्च से लगेंगे टीकेPunjab Election 2022: पंजाब में चुनाव की तारीख टली, अब 20 फरवरी को होगी वोटिंग'किसी को जबरदस्ती नहीं लगाई कोरोना वैक्सीन ', केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में बतायाविधायक ने खड़े होकर कराई सड़कों की जांच, नमूने रखवा दिए एसडीएम ऑफिस मेंआखिर क्या है दलबदल कानून और क्यों पड़ी इसकी जरूरत, जानिए सब कुछऐसा क्या हुआ की सीएम योगी आदित्यनाथ का यह कैबिनेट मंत्री वर्षों बाद अचानक छानने लगे जलेबी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.