महिला चला रही थी कार्ड क्लोन बनाकर लोगों के एकाउंट से रुपये निकालने वाला गैंग

नाेएडा पुलिस ने बैंक कार्ड का क्लोन बनाकर लोगों के बैंक खातों से रुपये निकालने वाले गैंग की महिला सरगना समेत तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से लैपटॉप, मोबाइल फोन, एटीएम कार्ड, कैमरा, एटीएम कार्ड रीडर, एटीएम क्लोनिंग करने के उपकरण मिले हैं।

By: shivmani tyagi

Updated: 27 Jun 2021, 06:32 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

नोएडा कोतवाली सेक्टर 20 पुलिस ने डेबिट कार्ड ( debit cards ) की डिटेल हैक कर, उसका क्लोन बनाकर लोगों के एकाउंट ( bank account ) से रुपये निकालने वाले गैंग का पर्दाफाश किया है। पुलिस ( Noida police ) ने एक विदेशी नागरिक और एक महिला समेत गैंग के तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से लैपटॉप, दो मोबाइल फोन, 28 एटीएम कार्ड और एक बैग जिसमें एटीएम मशीन में लगाने वाले कुल सात बोर्ड हैं बरामद किए हैं।

यह भी पढ़ें: सीओ के व्यवहार से क्षुब्ध प्रधानों ने घेरा थाना, जमकर नारेबाजी

गिरफ्तार आरोपियों ने अपने नाम रूसलेन, रविकर, और कोमल बताए हैं। पुलिस ने इन्हे डीएलएफ माल के पीछे गेट के पास नाले की पटरी नोएडा से गिरफ्तार किया। क्लोन बनाने के लिए ये लोग एटीएम मशीन मे स्किमर, कैमरा डिवाइस लगा देते थे। जब कोई व्यक्ति पैसे निकालने के लिए अपने डेबिट कार्ड को स्वाइप करता था तो उसका सारा डाटा जैसे कार्ड की ब्लैक स्ट्रीप व सीवीवी नंबर स्कैन हो जाता था। इसके अलावा आरोपी एटीएम की कीपैड के पास एक छोटा कैमरा लगा देते थे। इससे आरोपी को पीड़ित का पासवर्ड पता चल जाता है। इसके अलावा आरोपी अशिक्षित लोगों की मदद के बहाने छोटे स्कीमर में उसके कार्ड का डाटा रिकॉर्ड कर लेते थे। इस तरह एटीएम का क्लोन करके उनके पिन की जानकारी कर खाते से पैसा निकाल लिया करते थे।

यह भी पढ़ें: साप्ताहिक बंदी से सब्जियों की बिक्री में आई बड़ी गिरावट, दाम गिरे

डीसीपी रणविजय सिंह ने बताया कि इस गैंग का मास्टरमाइंड बुल्गारिया का रहने वाला रसलेन पुत्र पैट्रोव है। रसलेन बुल्गारिया से टूरिस्ट वीजा पर वर्ष 2019 में 10 मई को भारत आया था। शातिर किस्म का अपराधी है। रूसलेन इलेक्ट्रिकल डिप्लोमा होल्डर होने के कारण इलेक्ट्रॉनिक स्पाई गैजेट तैयार करने मे माहिर है। रूसलेन को दिल्ली मे भी धोखाधड़ी करने के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था। जो 01 फरवरी 2021 में दिल्ली जेल से छूटकर आया है। और अपने साथियों रविकर, और कोमल के साथ मिलकर धोखाधडी करने में जुट गया था।

यह भी पढ़ें: बोनट से निकलने लगा धुंआ और फिर आग का गोला बन गई दौड़ती कार, सामने आई बड़ी वजह

यह भी पढ़ें: दिल्ली से नैनीताल घूमने जा रहे चार दोस्तों की कार डिवाइडर से टकराई, चारों की मौत

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned