Sharad Pawar की हिदायत- Voters को हल्के में न लें नेता, Indira और Atal जैसे नेता भी हारे चुनाव

  • NCP Chief Sharad Pawar ने BJP पर निशाना साधा
  • Sharad Pawar ने कहा कि राजनेता Voters को हल्के में न लें

By: Mohit sharma

Updated: 11 Jul 2020, 04:11 PM IST

नई दिल्ली। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ( NCP ) के मुखिया शरद पवार ( Sharad Pawar ) ने भारतीय जनता पार्टी ( BJP ) पर निशाना साधा है। शरद पवार ( NCP Chief Sharad Pawar ) ने कहा कि राजनेता मतदाताओं ( Voters ) को हल्के में न लें। ये वो ही मतदाता हैं, जिनकी वजह से इंदिरा गांधी ( Indira Gandhi ) और अटल बिहारी वाजपेयी ( Atal Bihari Vajpayee ) जैसे ताकतवर नेताओं को चुनाव में हार का मुंह देखना पड़ा था। एनसीपी चीफ ( NCP Chief ) ने कहा कि पिछले साल विधानसभा चुनाव ( Maharashtra Assembly Election ) के दौरान महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ( Devendra Fadanvis ) ने ‘मी पुन: येन’ (मैं दोबारा आउंगा) का राग अलापा था। लेकिन मतदाताओं को इसमें अहंकार की बू आई और उन्होंने चुनाव में भाजपा ( BJP ) को सबक सिखा दिया।

Vikas Dubey Encounter: राहुल का शायराना हमला- कई जवाबों से अच्छी है ख़ामोशी उसकी, न जाने कितने सवालों की आबरू रख ली

r.png

महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ महाविकास अघाढ़ी सरकार को एक 'सफल प्रयोग' के रूप में पूरा अंक देते हुए, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार ने शनिवार को कहा कि उन्होंने सरकार पर नियंत्रण के लिए न तो 'हेडमास्टर' की तरह काम किया और न ही 'रिमोट' चलाया। पवार ने उद्धव के आठ महीने के कार्यकाल की तारीफ करते हुए कहा कि दिवंगत (शिवसेना संस्थापक) बालासाहेब ठाकरे और उद्धव ठाकरे के काम करने की शैली काफी अलग हैं .. लेकिन मुख्यमंत्री के रूप में भी वे अच्छा काम कर रहे हैं। पवार ने यह भी कहा कि उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में बना सत्तारूढ़ महा विकास अघाड़ी के घटक दलों में कोई मतभेद नहीं है और न ही इससे जुड़ी खबरों में कोई सच्चाई है। शिवसेना के आधिकारिक पत्रिका, सामना के कार्यकारी संपादक संजय राउत द्वारा आयोजित मैराथन साक्षात्कार में उनकी टिप्पणियां सामने आईं हैं।

Vikas Dubey Encounter: मुठभेड़ में ढेर Gangster Amar Dubey के पिता 5 साल बाद निकले जिंदा, बेटे की मौत की सूचना पर आए सामने

rt.png

Rahul Gandhi की UGC से मांग- परीक्षाएं रद्द हों, पिछला प्रदर्शन देखकर छात्रों को पास कर दें

शरद पवार ने कहा कि लोकतंत्र में यह सोचना गलत होगा कि आप हमेशा सत्ता में रहेंगे। अगर मतदाताओं को महत्व नहीं दिया गया तो वो इस बात को कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे। यही वजह है कि मजबूत जनाधार वालीं इंदिरा गांधी और अटल बिहार वाजपेयी भी चुनाव में हार का सामना कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि जनता के पास लोकतांत्रिक अधिकार हैं, अगर नेता अपनी सीमा रेखा पार करेंगे तो चुनाव में उनको खामियाजा भुगतना पड़ेगा। इसलिए नेताओं के अच्छा यही है कि वो ये ना सोचें कि सत्ता में दोबारा लौटेंगे अगर जनता को उसमें अहंकार की बू आई तो उनको सबक सिखाया जाएगा।

भारतीय जनता पार्टी Devendra Fadnavis
Show More
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned