11 पेज का सुसाइड नोट लिखकर कहा- क्यों नहीं करना चाहिए प्यार और झूल गया फंदे पर

11 पेज का सुसाइड नोट लिखकर कहा- क्यों नहीं करना चाहिए प्यार और झूल गया फंदे पर

Deepak Sahu | Publish: Sep, 11 2018 01:03:19 PM (IST) | Updated: Sep, 11 2018 01:16:07 PM (IST) Raipur, Chhattisgarh, India

11 पेज का सुसाइड नोट लिखकर उठा लिया ऐसा कदम

राजनांदगाव. छत्तीसगढ़ के राजनांदगाव में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसमे एक युवक ने कभी नहीं सोचा होगा की उसे एक संभ्रात परिवार की बेटी से भागकर शादी करना इतना महंगा पड़ जाएगा। दरअसल, एक ही गांव के रहने वाले युवक को एक संभ्रात परिवार की लड़की से प्यार हो गया था। इसके चलते दोनों आपस में छुप-छुपकर मिलने भी लगे थे। इस रिश्ते को परिजन नहीं मानेंगे सोचकर दोनों ने घर से भागकर शादी कर ली। कुछ महीनों बाद दोनों अपने गांव लौटे इससे लड़की के परिवार वाले लड़की को घर ले जाकर युवक के खिलाफ थाना में अपराध करवा दिया। पुलिस ने युवक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। लगातार पुलिस की प्रताडऩा से तंग आकर युवक ने 11 पेज का सुसाइड नोट लिखकर आत्महत्या कर लिया।

यह मामला सुरगी क्षेत्र के मुड़पार का है। लड़की के परिजनों व पुलिस के प्रताडऩा से तंग आ कर युवक ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली है। सुसाइट नोट में मृतक युवक ने पुलिस व लड़की के परिजनों पर लगातार परेशान करने का आरोप लगाया है। वहीं घटना के बाद गांव का माहौल तनावपूर्ण है। मिली जानकारी के अनुसार मुड़पार निवासी 22 वर्षीय पवन साहू पिता गैंदलाल का सुरगी निवासी 19 वर्षीय युवती से प्रेम प्रसंग चल रहा था। युवक व युवती 18 जून 2018 को घर से भाग गए और 29 जून को आर्य समाज में दोनों ने शादी कर ली। इसके बाद 10 जुलाई को दोनों युगल वापस गांव लौटे।

crime news

इस दौरान लड़की के परिजन अपने बेटी को घर ले गए और उसके प्रेमी पवन साहू के खिलाफ थाना में लड़की को भगा ले जाने की शिकायत दर्ज कराई। इस दौरान पुलिस युवक के खिलाफ धारा 151 के तहत मामला दर्ज कर उसे जेल भेज दिया। बताया जा रहा है कि युवक के परिजन उसका जमानत करा कर उसे जेल से बाहर निकाले। इस बीच 7 सितम्बर को पुलिस फिर से युवक को उसके घर से उठा ले गई और जमकर मार- पीट किया। प्रताडऩा से तंग आकर पवन ने 8 सितम्बर की रात अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

पवन के आत्महत्या के बाद उसके गांव मुड़पार में पुलिस के खिलाफ काफी आक्रोश देखा गया। ग्रामीण सुबह युवक के शव को ले जाने पुलिस को उसके घर में घुसने नहीं दे रहे थे। इस दौरान ग्रामीणों व मृतक के परिजनों ने पवन व युवती के साथ आर्य समाज में हुए शादी की फोटोग्राफ व अन्य दस्तावेज सौंपकर लड़की के परिजनों व पुलिस पर भी कार्रवाई की मांग करने लगे। ग्रामीण मृतक पवन के सुसाइट नोट को गांव में ही सार्वजनिक रुप से पढऩे की बात पर अड़े हुए थे। इस दौरान पुलिस प्रशासन द्वारा राजनांदगांव बंसतपुर थाना में ग्रामीणों के समक्ष सुसाइट नोट सार्वजनिक करने की बात कही और ग्रामीणों को थाना बुलाया गया। थाना में सुसाइट नोट को सार्वजनिक किया गया। जिसमें मृतक ने लड़की से शादी से लेकर उसके परिजनों व पुलिस पर प्रताडऩा की बात लिखी गई है। इस पूरे मामले में पुलिसिया कार्रवाई भी सवालों के घेरे में है।

 

crime news

पुलिस ने 11 पन्ने का सुसाइड नोट बरामद किया है। इस सुसाइड नोट में लड़की के परिजनों का नामजद जिक्र करते हुए दबाव डालने का आरोप लगाया है। इसके अलावा पुलिस द्वारा मारपीट और कोरे कागज में हस्ताक्षर लेने का भी जिक्र किया है। इससे परेशान होकर खुदकुशी करने की बात लिखी गई है।

कमल लोचन कश्यप, एसपी ने कहा कि युवक के खुदकुशी करने की जानकारी मिली है। मामले पर संज्ञान लिया जाएगा। यह प्रेम प्रसंग का मामला था। पुलिस द्वारा युवक को प्रताडि़त नहीं किया गया है। शिकायत पर पूछताछ की गई थी। युवक ने सुसाइड नोट में पुलिस का जिक्र ही नहीं है। फिर भी कहीं कोई संदेह होगा तो इसकी जांच जरूर करेंगे।

Ad Block is Banned