Vastu Tips: मोरपंख, जो दूर करता है घर का हर वास्तु दोष!

मोर पंख दिखने में जितना खूबसूरत उतना ही फायदेमंद...

देवाधिदेव महादेव के पुत्र भगवान कार्तिकेय को देवताओं का सेनापति माना जाता है। धर्मग्रंथों में इनका वाहन मोर बताया गया है। जो देखने में बेहद खूबसूरत और आकर्षक होते हैं।

कई पौराणिक कथाओं mythology और मान्यताओं में मोर को शुभ माना गया है, वहीं सनातन धर्म में मोर को धन की देवी लक्ष्मी और विद्या की देवी सरस्वती से भी जोड़कर देखा जाता है। मान्यता के अनुसार घर में मोर पंख Peacock Feather रखने से धन और बुद्धि दोनों ही प्राप्त होती है।

मोर पंख की पवित्रता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि Lord Krishna भगवान श्रीकृष्ण ने अपने मस्तक पर मोर पंख Peacock Feather को स्थान दिया है।

Must Read- वास्तु शास्त्र: राशि के अनुसार जानें कौन सी दिशा है आपके लिए सबसे खास

vastu

ऐसे में वास्तु के जानकारों का मानना है कि Mor Pankh मोर पंख दिखने में जितना खूबसूरत होता है, वह घर के लिए भी उतना ही फायदेमंद Benefits Of Peacock Feather भी होता है। वास्तु की जानकार रचना मिश्रा के अनुसार मोर का एक पंख ग्रह दोष से लेकर वास्तु दोष Vastu Dosh तक को दूर करने में मदद कर सकता है।

मोर पंख के संबंध में माना जाता है कि यदि कोई व्यक्ति आर्थिक समस्या से जूझ रहा है, तो उसे अपने ऑफिस या तिजोरी में दक्षिण-पूर्व दिशा में मोर पंख रखना चाहिए। माना जाता है कि ऐसा करने से उसे लाभ होने के साथ ही कभी भी धन की कमी नहीं होती और रुका धन भी आसानी से प्राप्त हो जाता है।

Must Read- कॅरियर के लिए खास ट्रिक्स: ये हैं जल्दी नौकरी पाने के खास उपाय!

vastu tricks

 

Vastu Shastra: जानें मोर पंख के फायदे

1. वास्तु शास्त्र के अनुसार यदि आपके घर में किसी वास्तु दोष के कारण आपके घर के मुख्य द्वारा से Negative Energy नकारात्मक ऊर्जा के प्रवेश की संभावना हो तो घर के मुख्य द्वार पर 3 मोरपंख लगाकर 'ॐ द्वारपालाय नम: जाग्रय स्थापयै स्वाहा' मंत्र लिखें और नीचे गणेश जी की मूर्ति लगानी चाहिए।

वास्तु शास्त्र के अनुसार ऐसा करने से नकारात्मक ऊर्जा negative energy घर में प्रवेश नहीं करती जिससे घर में सुख शांति व खुशहाली बनी रहती है। इसके साथ ही यह भी मान्यता है कि मोर पंख किसी भी स्थान को बुरी शक्तियों और प्रतिकूल चीजों के प्रभाव से बचाकर रखता है।

2. घर में यदि भगवान कृष्ण lord krishna की प्रिय बांसुरी के साथ मोर के पंख को रखा जाए तो इससे भी घर का वास्तु दोष दूर होता है।

3. वास्तु शास्त्र की मानें तो वैवाहिक जीवन में तनाव होने पर शयनकक्ष में 2 मोर पंख एक साथ लगाने से पति पत्नि के बीच आपसी तालमेल और प्यार बना रहता है।

Must Read- Vastu: सोई हुई किस्मत जगाने के उपाय, घर में आती है सुख समृद्धि और वैभव

Vastu tips

4. वास्तुशास्त्र के अनुसार मोरपंख को घर की दक्षिण दिशा में स्थित तिजोरी में खड़ा करके रखने से घर में कभी भी धन की कमी नहीं होती है। यानि घर की जिस जगह पर आप अपना पैसा या जेवर रखते हों वहां पर मोर पंख रखने से Economy आर्थिक स्थिति में सुधार आता है।

वहीं यह भी मान्यता है कि यदि आप आर्थिक लाभ चाहते हैं तो किसी मंदिर में जाकर मोरपंख को राधा कृष्ण के मुकुट में लगाएं और 40 दिन बाद इसे अपने लॉकर या तिजोरी में रख दें।

 

Benefits Of Peacock Feather: धार्मिक आधार पर मोर पंख

ज्योतिष सहित वास्तु के जानकारों के अनुसार घर के Puja Room पूजा घर में देवी देवताओं के साथ मोर का पंख रखना बेहद शुभ माना जाता है। दरअसल देवी मां सरस्वती, श्रीकृष्ण, मां लक्ष्मी, इन्द्र देव, कार्तिकेय, श्री गणेश सहित कई देवों को मोर पंख किसी न किसी रूप में प्रिय हैं, ऐसे में इसे घर में रखना शुभ माना जाता है।

Must Read- vastu shastra tips: यह छोटा सा उपाय बना देता है, घर का बड़े से बड़ा बिगड़ा काम!

vastu_shastra_relation_with_sun_rays

इसके अलावा पौराणिक काल में भी महर्षियों द्वारा इसी मोरपंख की कलम बनाकर बड़े-बड़े ग्रंथ लिखे गए हैं। ऐसे में इसे लेकर मान्यता है कि इससे घर में सुख-समृद्धि आने के साथ ही व्यक्ति को आर्थिक समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ता।

ज्योतिष व वास्तु के जानकार डीसी शास्त्री के अनुसार जो लोग घर में Positive Energy सकारात्मक ऊर्जा के संचार के अलावा परिवार के सभी सदस्यों के बीच दूरियां कम करने के साथ ही प्यार बनाए रहना चाहते हैं, उन्हें घर के लिविंग रूम में मोर का एक पंख अवश्य लगाना चाहिए।

वहीं देवी सरस्वती को भी मोर पंख प्रिय होने के चलते कुछ लोगों का यहां तक मानना है कि यदि कोई बच्चा पढ़ाई में कमजोर है, तो उसकी किताबों के बीच में मोर पंख रख देने से पढ़ाई में बच्चे का रुझान बढ़ने लगता है।

इसके अलावा माना जाता है कि राहु Rahu का दोष होने पर मोरपंख घर की पूर्वी और उत्तर पश्चिम की दीवार पर लगाना चाहिए। वहीं ग्रहों के अशुभ प्रभाव होने पर भी मोरपंख पर 21 बार ग्रह का मंत्र बोलकर पानी का छींटें देना भी खास माना गया है, ऐसा करने के बाद इसे ऐसे श्रेष्ठ स्थान पर स्थापित करें जहां से यह दिखाई दे।

दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned