बनारस में वीडीए की बड़ी कार्रवाई, गंगा किनारे गिराये गये अवैध निर्माण

Devesh Singh

Publish: Dec, 07 2017 06:52:43 (IST)

Varanasi, Uttar Pradesh, India
बनारस में वीडीए की बड़ी कार्रवाई, गंगा किनारे गिराये गये अवैध निर्माण

वीडीए वीसी के नेतृत्व में चला अभियान, जानिए क्या है कहानी

वाराणसी. वीडीए वीसी पुलकित खरे के नेतृत्व में गुरुवार को गंगा किनारे के अतिक्रमण को ध्वस्त करने के लिए गुरुवार को अभियान चलाया गया। वीडीए के अभियान से अतिक्रमण करने वालों में हड़कंप मचा रहा। वीडीए ने कुल १५ अतिक्रमण को ध्वस्त किया है। वीडीए वीसी ने स्पष्ट कर दिया है कि जिन लोगों ने नियमों का उल्लंघन करके निर्माण कार्य किया है उनके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।
यह भी पढ़े:-बीजेपी की जिला पंचायत अध्यक्ष अपराजिता ने अपनी शादी में किया मेरे सइयां सुपरस्टार पर डांस, वीडियो वायरल



VDA encroachment free campaign
IMAGE CREDIT: Patrika

वीडीए की पांच टीमों ने दशाश्वमेध घाट -मणिकर्णिका घाट- दुर्गाघाट- लाल घाट व लालघाट से गोलाघाट एवं गोलाघाट से राजघाट तक अभियान चला कर अतिक्रमण ध्वस्त किया गया है। कोई द्वितीय तल की दीवार का निर्माण करा रहा था तो किसी ने अनाधिकृत रुप से निर्माण कराया था। वीडीए ने नियमों का उल्लंघन करने वाले किसी व्यक्ति को नहीं छोड़ा है और सबके अतिक्रमण को ध्वस्त कर साफ कर दिया है कि अब वीडीए की कार्यशैली बदल गयी है।
यह भी पढ़े:-यूपी में है बीजेपी की सरकार, सपा इस माह होने वाले चुनाव में कैसे बचायेगी अपनी यह १० सीट

पूर्व में भी किया गया था ध्वस्तीकरण
वीडीए ने तीसरे चरण का अभियान चलाया है। पूर्व में अस्सी घाट से हरिश्चन्द्र घाट व बाद में हरिश्चन्द्र घाट से दशाश्वमेध घाट तक ध्वस्तीकरण का अभियान चलाया जा चुका है। कुछ जगहों पर ध्वस्तीकरण करने के बाद फिर से निर्माण करने की शिकायते मिल रही है जिसको लेकर भी वीडीए गंभीर है और आवश्यक कार्रवाई की जा रही है।
यह भी पढ़े:-यहां के रामनगर की बदल जायेगी तस्वीर, एशिया का पहला ऐसा विलेज बनाने के लिए देखी गयी जमीन

वरूणा कॉरीडोर के किनारे भी चलेगा अभियान
वीडीए अब वरूणा कॉरीडोर को अतिक्रमण से मुक्त करने के लिए अभियान चलाने की तैयारी में है। वीडीए वीसी ने जिस तरह से अतिक्रमण के खिलाफ अपना रवैया दिखाया है उससे साफ हो जाता है कि राजनीतिक व बड़े स्तर को प्रशासनिक हस्तक्षेप नहीं किया जायेगा तो कोई भी अवैध निर्माण नहीं बच पायेगा। फिलहाल सबकी निगाहे अब वरूणा कॉरीडोर में किये गये अतिक्रमण को हटाने वाले अभियान पर नजर लगी है अब देखना है कि यह अभियान कब चलेगा।
यह भी पढ़े:-UP College छात्रसंघ चुनाव में नवीन अध्यक्ष, कृष्णमूर्ति उपाध्यक्ष व हर्ष सिंह महामंत्री निर्वाचित

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned