सूदखोरों के ठिकानों पर छापा 115 पासबुक और 147 ब्लैंक चेक मिले

10 से 20 गुना ब्याज की करते थे वसूली, अनूपपुर में 150 से ज्यादा पुलिसकर्मियों ने दी दबिश

By: Hitendra Sharma

Published: 12 Sep 2021, 10:39 AM IST

अनूपपुर. जिले के बिजुरी, कोतमा भालूमाड़ा थाना अंतर्गत सूदखोरी में शामिल आठ आरोपियों के ठिकानों पर पुलिस ने शनिवार को छापा मारा। एसपी के निर्देश पर हुई कार्रवाई के दौरान आरोपियों के पास से 147 ब्लैंक चेक, 115 पासबुक समेत अनेक दस्तावेज मिले हैं।कार्रवाई के लिए बनाई गई टीम में 150 पुलिसकर्मी शामिल थे।

आरोपी इलाके के सीधे-साधे लोगों को कर्ज पर पैसा देकर 10 से 20 गुना तक ब्याज वसूलते थे।सूदखोरी की शिकायतों के आधार पर 10 मामलों में 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। इनमें हंसकुमार, अनुज मिश्रा, चंचल सिंह, राजकुमार पाण्डेय, दीपक नागवानी, लियाकत अली, सम्पति जैन, फलमती केवट को हिरासत में लिया गया है। दो आरोपी परवेज और हरजीत फरार हैं।

Must See: नान का निकला दिवाला हर दिन भरना पड रहा 12 करोड रुपए का ब्याज

पहले भी 8 पकड़े थे
सूदखोरी को खत्म करने पुलिस ने हेल्पलाइन नंबर जारी किया था। इस पर आईं शिकायतों के बाद 24 अगस्त को भी कार्रवाई की गई थी। इसमें भी 8 सूदखोरों को 55 लाख के साथ गिरफ्तार किया गया था।

Must See: कर्ज माफी की उम्मीद में 33 फीसदी किसान नहीं चुका रहे कर्ज

51 आधार कार्ड और 28 एटीएम जब्त
कार्रवाई में 115 पासबुक, 147 हस्ताक्षर युक्त ब्लैंक चेक, 377 नग एलआइसी बाण्ड, 47 चेकबुक, 68 शपथ पत्र, 51 आधार कार्ड, 30 ब्लैंक चेक, 28 एटीएम कार्ड, 22 पैनकार्ड, 12 स्टाम्प और 14 इकरार नामा सहित अन्य दस्तावेज जब्त किए गए।

Must See: थाने में केक काटकर जन्मदिन मनाना पड़ा महंगा

जिले में सूदखोरों के खिलाफ 24 अगस्त को पुलिस द्वारा कोतमा, भालूमाड़ा और रामनगर थाना क्षेत्र में चलाए गए विशेष अभियान में मिली सफलता में यह बात सामने आई कि सूदखोरों द्वारा पीडि़त परिवारों से कर्ज के मूलधन से अधिक चुकाए गए राशि के बाद भी ब्याज की राशि वसूल रहे थे। जिसमें पीडि़त परिवार दस्तावेजों के बंधन में होने के कारण कितना चुकाया और कितना बकाया है का गणना नहीं कर पाते थे।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि अभी अनेक थाना क्षेत्र कार्रवाई से बचे हैं, वहां कार्रवाई के साथ शिकायतों के लिए कैंप की शुरूआत आगामी सप्ताह से की जाएगी। जिसमें सूदखोरी से सम्बंधित शिकायतों को दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

Hitendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned