फीफा अंडर-17 विश्व कप में जैक्सन सिंह ने रचा इतिहास, भारत फिर भी रोमांचक मैच में हारा

Kuldeep Panwar

Publish: Oct, 09 2017 11:25:25 (IST)

Football
फीफा अंडर-17 विश्व कप में जैक्सन सिंह ने रचा इतिहास, भारत फिर भी रोमांचक मैच में हारा

मेजबान भारत को रोमांचक मैच में कोलंबिया के हाथों 2-1 से हार का सामना करना पड़ा।

नई दिल्ली। भारतीय फुटबॉल के इतिहास में जैक्सन सिंह का नाम सोमवार को स्वर्णाक्षरों में दर्ज हो गया, जब वे फीफा अंडर-17 विश्व कप के ग्रुप-ए के दूसरे मैच में सोमवार को कोलंबिया के खिलाफ गोल करने में सफल हो गए। ये किसी भी फीफा इवेंट के फाइनल्स में किसी भारतीय फुटबॉलर का आज तक का पहला गोल है। हालांकि जैक्सन सिंह के इस शानदार प्रयास के बावजूद मेजबान भारत को रोमांचक मैच में कोलंबिया के हाथों 2-1 से हार का सामना करना पड़ा।

 

Fifa U17 WC : Jeakson created Histroy But India Lost Again

एक पल की लापरवाही पड़ गई भारी
कोलंबिया ने जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में खेले गए मैच में भारत के जबरदस्त संघर्ष को बेकार साबित करते हुए जीत अपने खाते में दर्ज कर ली। कोलंबिया के लिए 49वें और 83वें मिनट में जुयान सेबास्टियन पेनालोजा ने दो गोल दागे। भारत के लिए एक मात्र गोल जैक्सन सिंह ने 82वें मिनट में करते हुए उसे 1-1 से बराबरी दिलाई थी। भारतीय टीम को निराशा इस बात की रही होगी कि दूसरा गोल उसकी अपनी लापरवाही की वजह से हो गया।

जब भारतीय टीम फीफा विश्व कप का अपना पहला गोल करने के जश्न में डूबी हुई थी, उसी समय रेफरी की तरफ से खेल शुरू करने की चेतावनी पर ध्यान नहीं देना भारी पड़ गया और इसका फायदा उठाकर कोलंबियाई स्ट्राइकर ने एक मिनट से भी कम समय के अंदर अपनी टीम को दोबारा 2-1 की बढ़त पर ला खड़ा किया। इसके बाद कोलंबियाई टीम ने मात्र समय बिताने का काम किया और भारतीय टीम को बराबरी का कोई मौका नहीं देते हुए जीत हासिल कर ली।

Fifa U17 WC : Jeakson created Histroy But India Lost Again

भारत ने दिखाया शानदार डिफेंस
भारत ने हालांकि इस मैच में उम्मीद से कहीं बेहतर खेल दिखाया और अपने बेहतरीन डिफेंस के दम पर कोलंबिया को पहले हाफ में एक भी गोल नहीं करने दिया। भारत इस मैच में कभी भी बैकफुट पर या किसी तरह के दबाव में नहीं दिखा और उसने लगातार अपने बेहतरीन खेल से सभी को प्रभावित किया। इस हार के बाद हालांकि भारत की अंतिम-16 में पहुंचने की उम्मीदें खत्म हो चुकी हैं। वहीं कोलंबिया ने अपनी अंतिम-16 में पहुंचने की उम्मीदों को जिंदा रखा है।

 

Fifa U17 WC : Jeakson created Histroy But India Lost Again

सुनील छेत्री ने की तारीफ

सीनियर भारतीय टीम के कप्तान और देश के लिए सबसे ज्यादा अंतरराष्ट्रीय गोल करने वाले सुनील छेत्री ने जैक्सन सिंह के ऐतिहासिक गोल को अपने लिए प्रेरक बताया। छेत्री ने ट्वीट करते हुए कहा कि मैं विश्वस्त नहीं कि किसी भारतीय टीम को गोल करते हुए देखकर मैं इतना खुश हुआ हूं। ये बहुत गर्व करने लायक और बहुत कुछ सीखने लायक है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned