दुनिया में Covid-19 Vaccine की उम्मीद को बड़ा झटका, ट्रायल में व्यक्ति की हालत बिगड़ी

-Coronavirus: दुनिया में कोरोना वायरस वैक्सीन ( Covid-19 Vaccine ) की उम्मीद को बड़ा झटका लगा है। -ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी ( Oxford University Covid-19 Vaccine ) के वैक्सीन परीक्षण को बीच में ही रोकना पड़ा है।
-क्योंकि ट्रायल में शामिल एक व्यक्ति की हालत बिगड़ गई।
-इसके बाद ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्राजेनेका ( AstraZeneca ) की वैक्सीन के ह्यूमन ट्रायल ( Human Trail ) को स्थगित कर दिया गया है।

By: Naveen

Published: 09 Sep 2020, 03:09 PM IST

नई दिल्ली।
Coronavirus: दुनिया में कोरोना वायरस वैक्सीन ( Covid-19 Vaccine ) की उम्मीद को बड़ा झटका लगा है। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी ( Oxford University Covid-19 Vaccine ) के वैक्सीन परीक्षण को बीच में ही रोकना पड़ा है, क्योंकि ट्रायल में शामिल एक व्यक्ति की हालत बिगड़ गई। इसके बाद ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्राजेनेका ( AstraZeneca ) की वैक्सीन के ह्यूमन ट्रायल ( Human Trail ) को स्थगित कर दिया गया है। हालांकि, व्यक्ति के बीमार पड़ने की जांच हो रही है।

covid-19_vaccine_trail_02.jpg

वैक्सीन की उम्मीद को बड़ा झटका
ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के वैक्सीन परीक्षण को अचानक रोकने से वैक्सीन की उम्मीद लगाए बैठे लोगों को बड़ा झटका लगा है। ब्रिटेन में वैज्ञानिकों ने वॉलेंटियर के बीमार पड़ने की जांच शुरू कर दी है। एस्ट्राजेनेका के प्रवक्ता ने कहा, "ऑक्सफोर्ड की अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जारी परीक्षण का मुआयना किया गया। इस दौरान हमने साइड इफेक्ट देखकर खुद से वैक्सीन के परीक्षण को रोक दिया। वहीं, इस मामले में वैज्ञानिकों का कहना है कि बड़े पैमाने पर परीक्षण के दौरान साइड इफेक्ट का होना सामान्य है। अब परीक्षण के समय पर संभावित प्रभाव को कम करने के लिए जांच तेज की जा रही है।

WHO की चेतावनी: Coronavirus को आखिरी महामारी ना समझे, बड़े संकट के लिए रहे तैयार!

AZD1222 का ट्रायल रुका
बता दें कि AZD1222 नाम की इस वैक्सीन को ऑक्सफोर्ड और एस्ट्राजेनेका तैयार कर रहे थे। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि दुनिया के अन्य वैक्सीन ट्रायल के मुकाबले यह दवा सबसे आगे चल रही थी। भारत समेत कई देशों की निगाहें ऑक्सफ़ोर्ड यूनिवर्सिटी की इस वैक्सीन पर टिकी हुईं हैं।

covid-19_vaccine_trail_01.jpg

मरीज में दिखा साइड इफेक्ट
वैक्सीन के ट्रायल में मरीज को साइड इफेक्ट हुआ है। हालांकि, इस बात का पता नहीं चला है कि यह साइड इफेक्ट किस तरह का है। वैज्ञानिकों के मुताबिक, साइड इफेक्ट्स में बुखार, सिर में दर्द, मांसपेशियों में दर्द, तकलीफ शामिल हैं। कोरोना वैक्सीन के तीसरे चरण के परीक्षण में करीब 30 हजार वॉलेंटियर शामिल हैं। मरीज के जल्‍द ही ठीक होने की उम्‍मीद है। ब्रिटेन के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री मैट हैकांक ने पिछले हफ्ते उम्मीद जताई थी कि साल 2021 के शुरुआती महीनों में यह वैक्‍सीन आ जाएगी।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned