2500 रुपए के लिए सरेराह व्यापारी के बेटों का अपहरण

बेखौफ रिकवरी एजेंट बीच बजार में गाड़ी छुड़ाने से लेकर अपहरण करने से नहीं चूके।

By: Hitendra Sharma

Published: 11 Sep 2021, 10:44 AM IST

इंदौर. शहर में महज 2500 रुपए की किस्त के लिए बुधवार दोपहर सरेराह 12वीं के दो छात्रों के अपहरण की वारदात सामने आई है। हालांकि दोनों ही छात्र दोपहिया वाहनों से छलांग लगाकर भागने में सफल हो गए। दोनों प्रॉपर्ट डीलर और प्लाइबुड व्यापारी के बेटे हैं। शहर में सरेराह अपहरण के बाद पुलिस कोर 24 घंटे लगे एफआइआर करने में, पुलिस का ये रवैया पुलिसिया कामकाज पर प्रश्न खड़े करती है।

पुलिस के मुताबिक पूरा मामला गाड़ी सीजिंग से जुड़ा है। तीनों आरोपी निजी फाइनेंस कंपनी के तीन रिकवरी एजेंट हैं जो लोगों से लोन के बाद रिकवरी करते हैं। पुलिस ने रोहित गोहर, सिद्धार्थ .सिसोदिया और मोहित पर अपहरण, मारपीट और धमकाने की धाराओं में केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है।

Must See:

पुलिस ने बताया, दोपहिया मालिक का भांजा अपने दो दोस्तों के साथ बुधवार दोपहर पोहा खाने निकला था। लौटने के दौरान एजेंट ने उन्हें पकड़ लिया। गाड़ी की किस्त के बारे में पूछताछ कर मारपीट करने लगे। इसके बाद गाड़ी पर बैठाकर जबरन ले जाने लगे, तो एक नाबालिग भाग निकला। दो को वे अपने साथ ले जाने लगे। बाद में दोनों छात्रों भी चलती बाइक से कूदकर भाग गए।

Must See: हथकड़ी तोड़कर जिला अस्पताल से कैदी हुआ फरार

गलत पहचान के कारण ऐसा हुआ
आरोपियों ने पुलिस को बताया, नौकरी का पहला दिन था। दोपहिया की गलत पहचान के चलते इन्होंने छात्रों को पकंडा था। थाना प्रभारी ने बताया तीनों आरोपी फाइनेंस कंपनी में रिकवरी एजेंट हैं। जिनको गिरफ्तार कर लिया है।

Must See: गैंगस्टर एक्टः एमपी में अब गुंडे और माफिया की खैर नहीं

Hitendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned