लाहौल घाटी: वोटरों की राह आसान बनाने BRO ने रोहतांग पास से हटाया 30 फीट बर्फ, पांच महीने की मेहनत के बाद रास्ता शुरू

लाहौल घाटी: वोटरों की राह आसान बनाने BRO ने रोहतांग पास से हटाया 30 फीट बर्फ, पांच महीने की मेहनत के बाद रास्ता शुरू

  • BRO ने रोहतांग पास परियोजना का काम पूरा किया
  • रविवार सुबह 4 बजे लाहौल घाटी से मनाली तक का मार्ग तैयार
  • अब वोटिंग के लिए गाड़ियों से आसानी से आ-जा सकेंगे वोटर

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में वोटिंग के लिए जहां देश के अलग-अलग हिस्सों में कई सुविधाएं और कवायदें की जा रही हैं, वहीं लाहौल घाटी में सीमा सड़क संगठन (BRO) ने भी एक मिसाल पेश की है। सालभर में कई चुनौतियों को पार करते हुए BRO ने रोहतांग पास की मदद से लाहौल घाटी को मनाली से जोड़ने का कार्य पूरा कर लिया है। अब यहां के मतदाताओं को वोटिंग करने के लिए आने-जाने में किसी तरह की परेशानी नहीं होगी।

रविवार तड़के 4 बजे पूरा हुआ प्रोजेक्ट

BRO ने यह काम रविवार तड़के 4 बजे तक संपन्न कर लिया। इस निर्माणकार्य के दौरान सालभर कभी मौसम की मार रही तो कभी अन्य रूकावटें, लेकिन फिर भी काम तय समय पर पूरा हुआ। सालभर में कभी बर्फबारी, कभी भूस्खलन जैसी प्राकृतिक आपदाओं से जुझते हुए रोहतांग पास से 30 फीट की बर्फ हटाने का काम किया गया।

मौसम विभाग का अलर्ट: इन इलाकों में अगले 48 घंटे बारिश और गिरेंगे ओले, आ सकती है 70 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से आंधी

पिछले पांच महीनों से जारी है काम

यह काम पिछले पांच महीनों से जारी है। अब रोहतांग पास पर इस तरह का मार्ग तैयार हो चुका है कि वोटर गाड़ियों से आवाजाही कर सकते हैं। बता दें कि इस कठिन काम को अंजाम देने के लिए जवानों को बेहद खराब मौसम में भी 12-12 घंटों की शिफ्ट में काम करना पड़ा। वहीं, बीते साल के मुकाबले इस साल इलाके में अधिक बर्फबारी दर्ज की गई।

पंजाब: दुल्हन की तरह सजाया गया पोल‍िंग बूथ, धूमधाम से मनाया गया फर्स्ट टाइम वोटर का बर्थडे

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned