Video : धुंध में हादसे रोकने को पशुओं के लगाए स्टीकर

धुंध में सड़कों की रोकथाम के लिए यातायात पुलिस की ओर से शाम को पदमपुर बाइपास पर घूम रहे आवारा पशुओं के सींगों पर रिफ्लेक्टर वाले स्टीकर लगाए गए।

By: vikas meel

Updated: 14 Nov 2017, 09:00 PM IST

श्रीगंगानगर.

धुंध में सड़कों की रोकथाम के लिए यातायात पुलिस की ओर से मंगलवार शाम को पदमपुर बाइपास पर घूम रहे आवारा पशुओं के सींगों पर रिफ्लेक्टर वाले स्टीकर लगाए गए। जिससे रात को धुंध के दौरान सड़क पर बैठे आवारा पशु वाहन चालकों को दिखाई दे सकें।

37 साल बाद याद आई सिक्योरिटी राशि ,विद्युत निगम ने शुरू की राजस्व वसूली

यातायात प्रभारी सुशील कुमार ने बताया कि धुंध में सड़क पर बैठे आवारा पशुओं से टकराने पर शहर व आसपास के इलाके में हादसे हो सकते हैं। इसको देखते हुए अधिकारियों के निर्देश पर पशुओं के सींगों पर स्टीकर लगाने का अभियान शुरू किया गया है। इस अभियान के दौरान सबसे पहले कोडा चौक से पदमपुर बाइपास के बीच घूमने वाले आवारा पशुओं के सींगों पर रिफ्लेक्टर वाले स्टीकर लगाए जा रहे हैं। इसके बाद अन्य मार्गों पर पुलिस की ओर से सड़क के आसपास घूमने वाले पशुओं को स्टीकर लगाए जाएंगे, जिससे रात को धुंध के कारण कोई वाहन उनसे टकरा नहीं जाए। रात के समय धुंध में वाहन चालक को सड़क पर आए पशु दिखाई नहीं देते हैं और वाहन पशुओं से टकरा जाता है। सींगों पर स्टीकर लगाए जाने के बाद वह रात को वाहनों की लाइट पडऩे के बाद चमकेगा, जिससे वाहन चालक को आगे सड़क पर कुछ होने के बाद में पता चल जाएगा। ।

Video : अब चलेगा सघन हेलमेट जांच अभियान

स्टीकर लगाने में पुलिसकर्मियों के छूटे पसीने

पदमपुर बाइपास पर मंगलवार शाम को यातायात पुलिस की ओर से हादसे रोकने के लिए आवारा पशुओं को स्टीकर लगाने का अभियान चलाया गया। इस दौरान पशुओं के सींगों पर स्टीकर लगाने में पुलिसकर्मियों के पीसने छूट गए। पुलिसकर्मियों ने छोटे पशुओं पर तो स्टीकर लगा दिए लेकिन बड़े सांडों को स्टीकर लगाना पुलिसकर्मियों के मुश्किल हो गया। सांडों ने पुलिसकर्मियों के पसीने छुड़ा दिए।

Show More
vikas meel
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned