खुखड़ी उखाडऩे जंगल में गया तो मौत से हो गया सामना, लहूलुहान होते तक लड़ा और बचा ली जिंदगी

rampravesh vishwakarma

Publish: Sep, 16 2017 08:10:34 (IST)

Ambikapur, Chhattisgarh, India
खुखड़ी उखाडऩे जंगल में गया तो मौत से हो गया सामना, लहूलुहान होते तक लड़ा और बचा ली जिंदगी

ग्राम शिवपुर के धंधापुर जंगल की घटना, हमले में जख्मी ग्रामीण को प्राथमिक उपचार के बाद अंबिकापुर किया गया रेफर

राजपुर. ग्राम शिवपुर के धंधापुर जंगल में शनिवार की सुबह खुखड़ी उखाडऩे गए ग्रामीण पर मादा भालू ने हमला कर दिया। भालू उसे बुरी तरह नोंचने लगा। उसने हिम्मत नहीं हारी और भालू से लड़कर उसके चंगुल से मुक्त हुआ फिर जख्मी हालत में ही जंगल से बाहर निकलकर अपनी जान बचाई। उसे संजीवनी १०८ से राजपुर अस्पताल पहुंचाया गया। यहां चिकित्सकों ने उसकी गंभीर स्थिति देख उसे मेडिकल कॉलेज अंबिकापुर रेफर कर दिया।


जानकारी के अनुसार ग्राम शिवपुर निवासी 50 वर्षीय पुरुषोतम राम गोड़ पिता घासी राम गोड़ शनिवार की सुबह लगभग 6 बजे धंधापुर जंगल में खुखड़ी उखाडऩे गया था। इसी दौरान दो शावकों के साथ वहां पहुंची मादा भालू ने उस पर हमला कर दिया। भालू ने उसके सिर, पैर व जांघ को बुरी तरह नोंच डाला। उसने भी हिम्मत नहीं हारी और भालू से भिड़ गया।

काफी मशक्कत के बाद भालू के चंगुल से मुक्त हुआ, फिर जख्मी हालत में ही चिल्लाते हुए जंगल से बाहर निकलकर अपनी जान बचाई। उसे जख्मी देखकर ग्रामीणों ने तत्काल परिजन को घटना की जानकारी दी। इसके बाद संजीवनी 108 को बुलाकर घायल ग्रामीण को राजपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया। यहां बीएमओ बीएमओ डॉ. रामप्रसाद तिर्की ने उसकी स्थिति गंभीर देख प्राथमिक उपचार के बाद उसे संजीवनी 108 से मेडिकल कॉलेज अस्पताल अंबिकापुर रेफर कर दिया।


जंगल में न जाने किया गया अलर्ट
इधर घटना की जानकारी मिलने पर वनपरिक्षेत्राधिकारी रामकृष्ण, डिप्टी रेंजर मनोज जायसवाल, लाशा मिंज, प्रमीत एक्का व पे्रम एक्का मौके पर पहुंचे। वन विभाग द्वारा घायल के परिजन को एक हजार रुपए की तात्कालिक सहायता राशि प्रदान की। डिप्टी रेंजर मनोज जायसवाल ने बताया कि अभी तात्कालिक सहायता राशि दी गई है। इलाज में जो भी खर्च आएगा, उसे वन विभाग देगा।

भालू के हमले में घायल के इलाज हेतु शासन से 49 हजार 100 रुपए तक देने का प्रावधान है। डिप्टी रेंजर ने बताया कि धंधापुर जंगल में भालू के आने के मद्देनजर शिवपुर, धंधापुर व आसपास के ग्रामीणों को अलर्ट कर दिया गया है। उन्हें जंगल में नहीं जाने की समझाइश दी गई है।

1
Ad Block is Banned