IAF के बेड़े में 8 अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्‍टर शामिल, अब पाक आतंकियों की खैर नहीं

  • भारतीय वायुसेना के बेड़े में खतरनाक 8 अपाचे शामिल
  • अमरीका से भारतीय वायुसेना को मिलेगा 22 अपाचे
  • दुनिया का सबसे ज्‍यादा खतरनाक हेलीकॉप्‍टर है अपाचे

नई दिल्‍ली। पठानकोट एयरबेस पर एक भव्‍य कार्यक्रम के बीच भारतीय वायुसेना ( IAF ) में 8 अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्‍टर ( Apache Fighter Helicopter ) शामिल हो है। अमरीकी अपाचे का सेना में शामिल होते ही आईएएफ की मारक क्षमता कई गुना बढ़ गई है। दुनिया की सबसे खतरनाक 8 अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्‍टर को आईएएफ के बेड़े में वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ की मौजूदगी में शामिल किया गया।

बता दें कि अमरीका भारतीय वायुसेना को सौदे के मुताबिक कुल 22 अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्‍टर मुहैया कराएगा। 2020 तक भारतीय वायुसेना के बेड़े में 22 अपाचे हेलिकॉप्टर शामिल होंगे।

इमरान खान के उड़े होश, बीएस धनोआ आज वायुसेना में शामिल कराएंगे 8 अपाचे लड़ाकू

दुनिया का सबसे खतरनाक हेलीकॉप्‍टर

अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्‍टर दुनिया का सबसे बेहतरीन अटैक हेलिकॉप्टर माना जाता है। इस ताकतवर लड़ाकू हेलिकॉप्टर के शामिल होने से भारतीय वायुसेना की ताकत कई गुना बढ़ गई है। अपाचे AH-64E अत्याधुनिक तकनीक से लैस है जो इसे दुनिया का सबसे खतरनाक अटैक हेलिकॉप्टर है।

अपाचे हेलीकॉप्टर के लिए आईएएफ ने अमरीकी सरकार और बोइंग लिमिटेड के साथ सितंबर, 2015 में कई अरब डॉलर का अनुबंध किया था। पारंपरिक युद्ध में टैंक लाने से लेकर छिपकर जंग लड़ने वाले आतंकवादियों पर हमला करने में अपाचे अहम भूमिका निभाएगा।

धारा 370 हटने के बाद केंद्र सरकार के मंत्रियों और अधिकारियों का जम्मू-कश्मीर दौरा आज

छिपे आतंकियों का खात्‍मा करने में भी सक्षम

अत्‍याधुनिक हथियारों से लैस और तेज गति से उड़ान भरने वाला अपाचे जमीन से होने वाले तमाम हमलों का जवाब दे सकता है। अपने मिलीमीटर वेव रडार की मदद से यह हथियारों से लैस दुश्मनों की मौजूदगी का पता लगा सकता है। उन्हें लेजर गाइडेड हेलफायर मिसाइल, हाइड्रा-70 एंटी ऑर्मर रॉकेट और 30 मिमी गन से बर्बाद कर सकता है।

अपाचे हेलिकॉप्टर थर्मल इमेजिंग सेंसर का इस्तेमाल करके छिपे आतंकवादियों का भी पता लगा सकता है और आतंकियों से अपनी 30 mm गन या एंटी पर्सनल रॉकेट्स से निपट सकता है।

गुजरात: पत्नी से नाराज कॉन्स्टेबल ने की 3 बच्चों की हत्या, पुलिस ने किया गिरफ्तार

Dhirendra Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned