चेन्नईः ट्रेन के पायदान पर यात्रा कर रहे लोग खंभे से टकराए, छह की मौत और चार घायल

हादसे के बाद पैसेंजर ट्रेन को सेंट थॉमस माउंट स्टेशन पर ही रोक दिया गया। हादसे के चलते यात्रियों में अफरा-तफरी मच गई। रेलवे ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

By:

Published: 24 Jul 2018, 05:10 PM IST

नई दिल्ली। रेलवे की तरफ से तमाम तरह की चेतावनियों के बावजूद ट्रेन के पायदान पर यात्रा कर रहे कुछ यात्री खंभे से टकरा गए। इनमें से तीन की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि तीन ने बाद में दम तोड़ दिया। मंगलवार को हुए इस हादसे में छह यात्री घायल भी हुए हैं। यह हादसा चेन्नई के सेंट थॉमस रेलवे स्टेशन पर हुआ। प्राप्त जानकारी के मुताबिक ट्रेन में भीड़ बहुत ज्यादा होने की वजह से कई यात्री पायदानों पर दरवाजों पर लटककर यात्रा कर रहे थे।

यात्रियों में अफरा-तफरी का माहौल

रिपोर्ट्स के मुताबिक सेंट थॉमस माउंट स्टेशन के पास पैसेंजर ट्रेन ईएमयू में भारी भीड़ थी जिसके कारण लोग पायदानों व दरवाजों पर लटककर यात्रा कर रहे थे। इस हादसे के बाद पैसेंजर ट्रेन को सेंट थॉमस माउंट स्टेशन पर ही रोक दिया गया। हादसे के चलते यात्रियों में अफरा-तफरी मच गई। रेलवे ने मामले की जांच शुरू कर दी है। इस तरह के मामले कई बार सामने आते रहते हैं। अक्सर ट्रेन के ऊपर बैठकर, दरवाजों पर लटककर, चलती ट्रेन में चढ़ने या उतरने आदि के चलते हादसे होते रहते हैं और जरा सी असावधानी से लोग जान गंवा बैठते हैं।

जंपसूट पहना तो NET में नो एंट्रीः डीपीएस में थी परीक्षा, फेसबुक पर छलका डीयू की छात्रा का दर्द

अव्यवस्थाएं भी हैं जिम्मेदार

कई जगहों पर लोग अपनी लापरवाही के चलते हादसों का शिकार होते हैं। लेकिन कई बार इसमें अव्यवस्थाओं का भी हाथ होता है। दरअसल कई ट्रेनों में जनरल कोच की क्षमता से करीब तीन से चार गुने यात्री सवार होते हैं। जिसके चलते हादसों की आशंका बढ़ जाती है। अक्सर ट्रेन में लोग दरवाजों पर ही खड़े हो जाते हैं जिससे नए यात्रियों को ट्रेन में चढ़ने में भी मुसीबत होती है, इसके चलते अक्सर पैर फिसलने जैसी घटनाएं होती हैं।

मोदी सरकार के फैसले पर पासवान ने उठाई अंगुली, 'SC-ST एक्ट हल्का करने वालों को NGT जज बनाना गलत'

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned