Save Aarey: आरे में मेट्रो के लिए काटे जा सकते हैं 70 और पेड़

डेयरी विभाग ( Dairy Department ) की मिली अनुमति ( Permission ), मेट्रो भवन ( Metro building ) के निर्माण का काम शुरू, अभी भी 70 पेड़ (70 Trees ) काटे जाने की आशंका, पर्यावरण ( Environment ) के लिए काम करने वाली संस्थाओं ( Institutions ) का विरोध ( Against )

मुंबई. आरे की देखभाल करने वाले डेयरी विभाग की ओर से अनुमति मिलने के बाद मेट्रो भवन के निर्माण का काम शुरू हो गया है। लेकिन निर्माण स्थल पर अभी भी 70 पेड़ काटे जाने की आशंका है। पर्यावरण के लिए काम करने वाली संस्थाएं इसका विरोध कर रही हैं। दूसरी तरफ एमएमआरडीए ने दावा किया है कि निर्माण कार्य से पर्यावरण को किसी भी तरह का कोई नुकसान नहीं पहुंचेगा। मेट्रो भवन की बिल्डिंग 32 मंजिला होगी, जहां से महानगर में फैली चौदह मेट्रो रेल लाइनों के संचालन पर नजर रखी जाएगी। इनमें से एक मार्ग पर मेट्रो चल रही है, जबकि शेष 13 प्रोजेक्ट का काम प्रगति पर है। मुंबई और आसपास के क्षेत्रों में 337 किमी लंबे मेट्रो रेल नेटवर्क का विकास किया जा रहा है।

एमएमआरडीए का 456 करोड़ खर्चने का राज जानिए यहां ?

एमएमआरडीए ने नहीं दिया मनपा का 2.77 करोड़

एमएमआरडीए को मिली अनुमति...
उल्लेखनीय है कि जहां तक निर्माण की अनुमति है, ऐसी साइट पर निर्माण किया जाना चाहिए, क्षेत्र के आसपास की प्राकृतिक संपत्ति को कोई नुकसान नहीं होगा और न ही किसी भी अनधिकृत निर्माण को अंजाम दिवा जाएगा। वहीं डेरी विभाग की ओर से होने वाले निर्माण कार्य पर नजर रखी जाएगी और उन्हें अधिकार के साथ सहायता की जाएगी। इस मामले पर डेयरी विभाग ने मेट्रो निर्माण के लिए एमएमआरडीए को अनुमति दी है, यह जानकारी मेट्रो के एक वरिष्ठ अधिकारी ने दी।

एमएमआरडीए की 'आईकॉनिक' बिल्डिंग का उदघाटन हुआ

BKC में 2200 करोड़ के लीज पर भूखंड

Show More
Rohit Tiwari
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned