कोरोना के नाम पर आने वाले इस मैसेज से रहें सतर्क, हो सकते हैं ठगी का शिकार

इस तरह के मैसेज आने से पहले हो जाएं सावधान। CERT और राज्य सायबर पुलिस ने जारी किया फिशिंग अटैक का अलर्ट।

By: Faiz

Published: 24 Jun 2020, 02:25 PM IST

भोपाल/ मध्य प्रदेश समेत देश-दुनिया में कोरोना वायरस तेजी से अपने पाव पसार रहा है। अब तो हालात ये हैं कि, लोगों में इस संक्रमण को लेकर दहशत का माहौल बनने लगा है। संक्रमण से बचे रहने के लिए कई लोग बिना जांच परख किये किसी भी सुझाव को मानने को तैयार हैं। इसी का फायदा अब ठगों ने भी उठाना शुरु कर दिया है। ऐसे कई लोग हैं, जो इन दिनों ऑनलाइन ठगी का शिकार हो रहे हैं। ऐसे में अगर आपके मोबाइल फोन या किसी अन्य ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर कोरोना (Corona) की फ्री जांच का मैसेज आए, तो आप सावधान हो जाएं, क्योंकि इस तरह के मैसेज के लिंक पर क्लिक करते ही आप ठगी का शिकार हो सकते हैं।

 

पढ़ें ये खास खबर- इस साल हज नहीं कर सकेंगे आप, कोरोना वायरस के चलते दुनियाभर में सिर्फ इस देश को मिलेगी इंट्री


क्या कहते हैं सायबर क्राइम पुलिस एडिशनल एसपी?

राज्य सायबर पुलिस ने अलर्ट जारी करते हुए कहा है कि, पुलिस के पास हर महीने औसतन 60 शिकायतें पहुंच रही हैं। इनमें कोरोना की फ्री जांच के अलावा दूसरे लुभावने मैसेज और केवाईसी अपडेट करने के नाम पर लोगों को ठगा जा रहा है। इसा के चलते भोपाल सायबर क्राइम पुलिस एडिशनल एसपी संदेश जैन के मुताबिक, ये शातिर ठग ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर अलग-अलग तरह से लोगों को ठग लेते हैं। इस ठगी से बचने का सबसे अच्छा तरीका जागरुक रहना है। लुभावने ऑफर से बचें। अपनी पर्सनल जानकारी किसी भी अनजान व्यक्ति को किसी भी ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर न दें।

 

पढ़ें ये खास खबर- Corona Update : मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या हुई 12261, अब तक 525 ने गवाई जान


इस तरह की शिकायतें आ रहीं सामने

भोपाल सायबर पुलिस मुख्यालय में दर्ज किये जाने वाले आंकड़ों को औसतन गौर करें तो ये हर माह प्रदेश से करीब 60 ऐसी शिकायतें सामने आ रही हैं, जिसमें पेटीएम में केवाईसी अपडेट करने के नाम पर एक व्यापारी के खाते से एक लाख से ज्यादा की रकम निकाल ली गई, लुभावने ऑफर देकर एटीएम कार्ड नंबर, पासवर्ड और दूसरी जानकारी लेकर ठगी, व्हाट्सएप पर आए कोविड-19 की फ्री जांच के मैसेज के जरिए भी ठगी जैसे कई अजीबों गरीब ठगी के मामले सामने आए हैं। जनता को इन शातिर ठगों से बचाने के लिए राज्य सायबर पुलिस ने अलर्ट जारी किया है।

 

पढ़ें ये खास खबर- शिवराज सरकार की घेरने की तैयारी में कमलनाथ, कांग्रेस ने बनाया ये खास प्‍लान


CERT ने दिया फिशिंग अटैक का अलर्ट

केंद्रीय सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय के अधीन काम करने वाली संस्था कंप्यूटर एमरजेंसी रिस्पॉंस टीम इंडिया यानी सीईआरटी-इन ने हाल ही में इस सायबर अटैक के संबंध में अलर्ट जारी किया है। इस अलर्ट के जरिये लोगों से कहा जा रहा है कि, वो फोन पर किसी भी तरह के लुभावने ऑफर्स से बचकर रहें। 21 जून के बाद फिशिंग अटैक और बढ़ने की आशंका है। सायबर ठग फिशिंग के तरीके सोशल मीडिया के सभी प्लेटफार्म, वेबसाइट पर पॉपअप भेजकर, ईमेल के जरिए लिंक भेज कर, एसएमएस पर लिंक भेजकर ठगी कर रहे हैं।

 

पढ़ें ये खास खबर- इस शहर ने बनाया खुद का होम आइसोलेशन सिस्टम, 24 घंटे की जा सकती है मरीजों निगरानी


इन बातों का रखें खास ध्यान

ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर रहने वाले व्यक्ति को जागरुक रहने की जरूरत है। इतना ही नहीं ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर यूजर को ऑटोमेटिक डाउनलोड ऑप्शन को बंद करके रखना चाहिए। अपने अकाउंट या फिर अपनी किसी भी तरीके की पर्सनल जानकारी ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर किसी भी अनजान व्यक्ति को ना दें। किसी भी संस्था के नाम पर आने वाली ई-मेल पर फाइल को ना खोलें। किसी भी तरीके के लिंक पर क्लिक करने से बचें। मैसेज या फिर ईमेल पर आने वाली अनजान जानकारी को किसी अन्य व्यक्ति को साझा न करें। लुभावने ऑफर के नाम पर ठगी का सिलसिला पुराना हो गया है, इसलिए अब सायबर ठग नए तरीकों से लोगों को अपने जाल में फांस रहे हैं।

coronavirus prevention
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned