यूपी के इस अस्पताल में पथराव के बाद मची भगदड़, सहमे डॉक्टर और स्टाफ ने छिपकर बचाई जान

यूपी के इस अस्पताल में पथराव के बाद मची भगदड़, सहमे डॉक्टर और स्टाफ ने छिपकर बचाई जान

lokesh verma | Publish: Oct, 14 2018 12:23:42 PM (IST) | Updated: Oct, 14 2018 12:23:43 PM (IST) Meerut, Uttar Pradesh, India

बागपत के जिला अस्पताल में हंगामा और पथराव

बागपत. जिला अस्पताल में बीती रात जमकर हंगामा और पथराव हुआ। डॉक्टरों पर पोस्टमार्टम में देरी करने का आरोप लगाते हुए आधा दर्जन लोगों ने जिला अस्पताल में पथराव कर दिया। इसके बाद ड्यूटी पर तैनात डॉक्टरों ने अस्पताल में छिपकर जैसेे-तैसे अपनी जान बचाई। हालांकि इस पथराव से अस्पताल के वार्ड बॉय और डॉक्टर घायल हो गए। घटना की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह से मामला शांत कराया।

पूर्व विधायक हाजी अलीम की मौत के मामले में पुलिस ने अब दर्ज की हत्या की रिपोर्ट

दरअसल, बड़ौत के एक युवक ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी। मृतक सीआरपीएफ के जवान का बेटा था, जिसने गृहकलेश में आत्महत्या की थी। आत्महत्या के बाद परिजन शव को लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल पहुंचे थे। बताया जा रहा है कि इस दौरान पोस्टमार्टम से संबंधित कागजात नहीं आने के कारण देरी हो गई। पोस्टमार्टम में देरी को लेकर गुस्साए लोगों ने अचानक हंगामा शुरू कर दिया। इस दौरान मौके पर मौजूद डॉक्टरों ने हंगामे का विरोध किया तो भीड़ में आए लोगों ने पथराव शुरू कर दिया। इस पथराव के दौरान मौके पर भगदड़ मच गई।

शादी समारोह के दौरान दो पक्षों में खूनी संघर्ष, पथराव में महिलाओं समेत अाधा दर्जन से ज्यादा घायल

डॉक्टर और स्टाफ अपनी जान बचान के लिए किसी तरह मौके से भागकर अस्पताल में छिप गए। हालांकि अचानक हुए इस पथराव से अस्पताल के वार्ड बॉय और डॉक्टर घायल हो गए। इधर, डॉक्टरों की सूचना पर पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में अस्पताल पहुंची पुलिस फोर्स ने हंगामा कर रहे लोगों को जैसे-तैसे शांत कराया। इसके बाद मृतक के शव का पोस्टमार्टम किया गया।

भीम आर्मी के बाद अब इस संगठन से जुड़ रहे दलित युवा, 2019 से पहले हाेगा ये बड़ा काम

बुलन्दशहर: अवैध कब्जे को हटवाने पहुंचे पुलिस प्रशासन और ग्रामीणों के बीच नोकझोंक, देखें वीडियो-

Ad Block is Banned